Halloween party ideas 2015

देहरादून :

 

 असम के विधानसभा अध्यक्ष बिस्वजीत दैमरी ने आज अपने उत्तराखंड के दो दिवसीय प्रवासीय भ्रमण के दौरान विधानसभा भवन, देहरादून में उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल से शिष्टाचार भेंट की।इस मौके पर उत्तराखंड स्पीकर ने असम के स्पीकर का पुष्पगुच्छ एवं गंगाजली भेंट कर स्वागत एवं अभिनंदन किया।इस अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी एवं कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत भी मौजूद थे।

    मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को विधानसभा में मीडिया से अनौपचारिक वार्ता करते हुए कहा कि हम चाहते हैं कि आगामी 23 अगस्त से प्रारम्भ होने वाला विधानसभा सत्र अच्छे ढंग से संचालित हो, आम जनता से जुड़े मुद्दों पर सार्थक विचार विमर्श हो। राज्य के विकास से जुड़े विषयों पर चर्चा हो। उन्होंने उसके लिये विपक्ष से भी सहयोग की अपेक्षा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विधानसभा सत्र के दौरान संचालित होने वाली कार्यवाही में पूरे मनोयोग से विभिन्न मुद्दों पर जवाब दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि विपक्ष द्वारा राज्य हित से जुड़े विषयों पर सकारात्मक रूप से राज्य सरकार कार्य करेगी। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के काबुल में फंसे लोगों को वापस लाने के लिये राज्य सरकार प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अपने नागरिकों को जो वहां फंसे हैं उन्हें वापिस लाने का प्रयास कर रही है।  उन्होंने कहा कि राज्य के प्रत्येक नागरिक को जो वहां फंसे हैं उन्हें वापिस लाने का प्रयास जारी है। इस सम्बन्ध में राज्य सरकार द्वारा भारत सरकार से वार्ता भी की जा रही है।

 भेंट वार्ता के दौरान प्रेमचंद अग्रवाल ने आसाम के स्पीकर को प्रतीक चिन्ह भेंट किया एवं शाल ओड़ाकर सम्मानित किया। बता दें कि असम के विधानसभा अध्यक्ष अपने परिवार सहित  उत्तराखंड दौरे के दौरान 18 अगस्त को देहरादून पहुंचे थे।

        इस अवसर पर  दोनों स्पीकर के बीच अपनी-अपनी विधानसभाओं की कार्य संचालन नियमवाली एवं सदन की गतिविधियों के संबंध में विस्तृत चर्चा हुई साथ ही विधानसभाओं की समितियों की कार्यप्रणाली एवं बैठकों के संबंध में भी वार्ता हुई।

 इस मौके पर असम स्पीकर ने विधानसभा भवन एवं सदन का निरीक्षण कर कोरोना संक्रमण के चलते सत्र के दौरान सदन के भीतर सदस्यों के बैठने की व्यवस्था का भी जायजा लिया। दोनों नेताओं के बीच अपने-अपने प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले एवं लॉकडाउन की स्थिति में उपजे हालातों पर चर्चा भी हुई।

       वहीं उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष ने उत्तराखंड विधान सभा की कार्य संचालन नियमावली एवं अन्य प्रकाशित पुस्तकें असम स्पीकर को भेंट की।



Post a Comment

Powered by Blogger.