Halloween party ideas 2015


हरिद्वार:


 करीब तीन दशक पहले सिने अभिनेता दिलीप कुमार तीर्थनगरी में भ्रमण करने पहुचे थे,मकसद तीर्थनगरी  का भ्रमण नही,बल्कि राजनीतिक पैरवी के इरादे थे। दरअसल 90वें के दशक में विधानसभा चुनाव के दौरान एक उम्मीदवार के समर्थन में चुनाव प्रचार करने दिलीप कुमार यहा पहुचे थे। वह निर्दलीय उम्मीदवार अजमल नवाज खान उर्फ बिल्लू भाई के चुनाव में प्रचार करने यहा पहुचे थे।

 कई नुक्कड़ सभाओं को सबंोधित करने के बाद वे स्थानीय एक होटल में पत्रकारों से भी वार्ता करते हुए कई मुदद्ो पर बात-चीत की थी। निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ने वाले अजमल नवाज खान उर्फ बिल्लू खान के पिता आजाद हिन्द फौज के सिपाही एवं नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के करीबी व पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु के मंत्रिमंडल मे रेल मंत्री रहे थे।

 तत्कालीन उत्तर प्रदेश में  उस समय हरिद्वार जनपद में  तीन विधान सभा क्षेत्र ही हुआ करते थे।

उसमें से हरिद्वार विधानसभा से अजमलनवाज खान के निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़कर विधानसभा पहुचना चाहते थे। अजमल नवाज खान के समर्थन में प्रख्यात सिने अभिनेता दिलीप कुमार ने यहा पहुँचकर  कई स्थानों पर नुक्कड़ सभाओं के जरिये लोगों से अजमल खान के समर्थन की अपील की थी।

 दिनभर दिलीप कुमार  चुनावी अभियान को परवान देते हुए समर्थन करने की अपील करते रहे। बाद में वे पत्रकारों से एक स्थानीय होटल में मिले थे,जहां पर उन्होने बड़ी बेबाकी से हर मुददे पर वार्ता करते हुए कई सवालों के जबाव दिये थे। हालांकि दिलीप कुमार के प्रचार अभियान के बावजूद अजमल नवाज चुनाव हार गये थे।

वर्तमान समय में अजमल नवाज के के परिवार का आवास एथल गांव में है।ज्ञात रहे अब अजमल खान का भी निधन हो गया।उन्होंने 1991 मे हरिद्वार विधान सभा से निर्दलीय चुनाव , 2002 मे कांग्रेस के टिकट पर लक्सर व एक बार समाजवादी पार्टी से मेरठ से भी चुनाव लड़ा था।

शंकर आश्रम  स्थित सरप्राइज होटल जो अब क्लस्सिक होटल के नाम मे परिवर्तित हो गया है मे 1990 मे एक रात गुजारी थी चुनाव प्रचार के सिलसिले मे।

Post a Comment

Powered by Blogger.