Halloween party ideas 2015


अल्मोड़ा : 


 जनपद अल्मोड़ा मुख्यालय में स्थित राजकीय चारा प्रक्षेत्र भैंसवाड़ा फार्म को, कोविड-19 से होने वाली मृत्यु के शवों को गाइड्लाईन एवं कोविड-19 के एस०ओ०पी० के अनुसार अंतिम संस्कार हेतु वर्ष -2020 से ही नियमत: चयनित किया गया है ।




यह प्रक्षेत्र  पूर्णतया घेरबाड़ युक्त एवं आबादी से दूर है । कोविड-19 से मृत व्यक्तियों के शवों का अंतिम संस्कार किए जाने हेतु जिला प्रशासन द्वारा एक टीम का गठन किया गया है जिसमें उप-जिलाधिकारी सदर, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका व अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत शामिल हैं । 

अंतिम संस्कार के दौरान पुलिस एवं राजस्व विभाग के कर्मचारियों की मौज़ूदगी में परिवार के सदस्यों द्वारा कोविड-19 की एस०ओ०पी० का पालन करते हुए पृथक-पृथक दाहसंस्कार किया जाता है । मृत व्यक्ति जिनके परिवारजन उपलब्ध न हो पायें या परिवार में अकेले हों तो राज्य आपदा प्रतिवादन बल (SDRF) के सहयोग से उनका दाह संस्कार किया जाता है । दाह संस्कार हेतु समस्त व्यवस्थायें (लकड़िया, पीपीई किट, वाहन आदि) जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध करायी जाती हैं । दाह संस्कार के पश्चात शव दाह प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद फायर सर्विस की गाड़ी के माध्यम से स्थल को पूर्णतया सैनिटाइज़ किया जाता है ।

जनपद में कोविड उपचार हेतु निर्धारित कोविड चिकित्सालय जिला मुख्यालय में स्थापित है अत: जनपद के विभिन्न क्षेत्रों से कोविड संक्रमित व्यक्तियों के उपचार के दौरान मृत्यु होने पर उनका दाह संस्कार निर्धारित उपरोक्त स्थल पर ही किया जाता है । 

उपरोक्त स्थल के सम्बंध में कतिपय मीडिया संस्थान द्वारा मृतक व्यक्तियों को तथाकथित खुले में शवदाह जंगल में किये जाने की फोटो एवं वीडियो बिना प्रशासन के अधिकारियों के पहलू को जाने तथ्यहीन/भ्रामक सूचना प्रसारित की जा रही है । जिला प्रशासन अल्मोड़ा इसका पूर्णत: खण्डन करता है ।

Post a Comment

Powered by Blogger.