Halloween party ideas 2015

  महामारी हो या  दैवीय आपदा का कहर, SDRF के जांबाज हर पल है मुस्तेज, निभा रहे है मानव धर्म, डटे है कर्तव्य पथ पर  जंग 

      कल दिनांक11 मई को देवप्रयाग में दशरत पर्वत  में बादल फटने की घटना से देवप्रयाग बाजार में भारी मात्रा में जल एवम मलवे का भराव हो गया था। साथ ही आईटीआई का एक भवन ओर अनेक दुकाने भी इसकी जद  में आये थे, जैसा कि ज्ञातव्य है कि वर्तमान में सम्पूर्ण उत्तराखंड में कोविड कर्फ्यू  लागू किया गया है जिस कारण  बाजार में आमजन की आवाजाही नही थी जिस कारण बादल फटने की घटना से जन हानि नही हुई, किन्तु अनेक दुकानों का सामान इसकी चपेट में आ गया।




   घटना की सूचना प्राप्त होते ही SDRF की एक टीम तत्काल ही सर्चिंग एवं बचाव कार्यो हेतु ऋषिकेश से देवप्रयाग को रवाना हुई थी,  

घटना में कोई जनहानि नही हुई है किन्तु संशय ओर सम्भावनाओं को समाप्त करने और एहतियात के तौर पर सर्चिंग की  गयी, आम जन जहां सर्चिंग क्षेत्र में जाने से परहेज कर रहा था वहीं SDRF टीम ने आज एक स्वर्णकार  की तिजोरी को मलवे से बाहर निकाला, जब तिजोरी को व्यवसायी ओर पुलिस के  समक्ष खोला गया तो उसमें से 8 लाख रुपये ओर सोने चाँदी के जेवर बरामद हुए, जिन्हें सिविल पुलिस के माध्यम से स्वर्णकार को वापस किया गया।

Post a Comment

Powered by Blogger.