Halloween party ideas 2015

 देहरादून :

 


कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम एवं प्रभावी नियंत्रण हेतु जिलाधिकारी डाॅ0 आशीष कुमार श्रीवास्तव ने वीडियोकान्फ्रेसिंग के माध्यम से मुख्य चिकित्साधिकारी, समस्त उप जिलाधिकारियों सहित विभिन्न नोडल अधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक की।
जिलाधिकारी ने चिकित्सालयों में कोविड संक्रमण सहित अन्य उपचार गतिविधियों में दीर्घकालिक योजना के अन्तर्गत की जाने वाली व्यवस्था यथा, उपकरण, यंत्र आदि का मांगपत्र प्रस्तुत करने हेतु दिए गए पूर्व निर्देशों की समीक्षा करते हुए उन्होंने समस्त चिकित्साधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन चिकित्सालयों द्वारा अब-तक मांग प्रेषित नही की गई हैं वे सभी 24 मई 2021 को प्रातः 11 बजे से पूर्व अपनी मांग मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय को प्रेषित करना सुनिश्चित करें। उन्होनंे स्पष्ट किया कि निर्धारित समय पर मांग प्रेषित ना करने वाले चिकित्सालयों के चिकित्साधिकारियों पर निर्धारित प्राविधानों के अनुसार कार्यवाही की जाएगी।

  साथ ही उन्होंने समस्त एमओआईसी को अपने से सम्बन्धित विकासखण्ड में ग्रामंपचायतवार टीकाकरण हेतु रोस्टर बनाएं तथा सम्बन्धित गांव वालों को टीकाकरण की तिथियों के बारे में पूर्व में ही जानकारी प्रेषित की जाए। उन्होंने कहा कि गांव में जाने वाली विभिन्न शासकीय टीमों के लिए जलपान की व्यवस्था एसडीआरएफ मद से की जाए। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को सैम्पल बढ़ाने में तेजी लाने के निर्देश दिए।

 उन्होंने समस्त चिकित्साधिकारियों को उनके चिकित्सालय में दवाईयों के स्टाॅक को प्रतिदिन गूगल शीट पर अद्यतन करने के निर्देश दिए ताकि चिकित्सालयों में दवाईयों की उपलब्धता के बारे में पूर्ण जानकारी रहे। मुख्य चिकित्साधिकारी को  ब्लैक फंगस की गाईडलाईन्स के साथ ही इन्फैक्सन से बचाव का विवरण भी सर्कुलेट करने के निर्देश दिए।
जिलाधिकारी ने कहा कि विभिन्न माध्यमों से शिकायतें प्राप्त हो रही हैं कि बिना चिकित्सक के परामर्श के मेडिकल स्टोर से लोग स्टारायड दवा का उपभोग कर रहें है, यह दवा बिना चिकित्सक के परामर्श कैसे दी जा रही है इसके लिए ड्रग इंस्पैक्टर तथा कैमिस्ट एसोशिएशन से इस सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की जाए तथा मेडिकल स्टोर को निर्देशित किया जाए कि बिना चिकित्सक के परामर्श के किसी भी प्रकार स्टारायड, दवा का विक्रय ना किया जाए। उन्होंने कन्ट्रोलरूम प्रभारी को निर्देशित किया कि जिन व्यक्तियों से सम्पर्क करने पर काॅल कनैक्ट नही हो पा रही है या फोन बन्द आ रहा है ऐसे व्यक्तियों से सम्पर्क करने हेतु 2-3 बार प्रयास किया जाए ताकि, सम्बन्धित को स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानी हो तो चिकित्सालय में उपचार हेतु लाया जा सके। 


बैठक में बताया कि गया विभिन्न विकासखण्डों में एन्टीजन सैम्पल प्राप्त किए गए, जिनमें चकराता एवं त्यूनी में  414 से 37 पाॅजिटिव, कालसी में 103 में से 3 पाॅजिटिव, विकासनगर में 147 में 0 पाजिटिव, सहसपुर में 54 में से 0 पाजिटिव, रायपुर में 586 में से 12 पाॅजिटिव, डोईवाला में 123 में से 0 पाॅजिटिव व्यक्ति चिहिन्त हुए।  
जिलाधिकारी डाॅं0 आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया है कि जनपद में कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत प्राप्त हुई रिपोर्ट में 716 व्यक्तियों की रिपोर्ट पाॅजिटिव प्राप्त होने के फलस्वरूप जनपद में आतिथि तक कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 105640 हो गयी है, जिनमें कुल 89843 व्यक्ति उपचार के उपरान्त स्वस्थ हो गये हैं। वर्तमान में जनपद में 12327 व्यक्ति उपचाररत हैं। आज जांच हेतु कुल 6354 सैम्पल भेजे गए।

 जनपद में अस्पतालों को 1862 एवं आम नागरिकों 140 आक्सीजन सिलेण्डर वितरित किए। जनपद में जिला प्रशासन द्वारा 255 एवं एसडीआरएफ द्वारा 74 तथा विभिन्न विकासखण्डों में 192 होम आयशोलेशन किट का वितरण किया गया। आपदा कन्ट्रोलरूम में होमआयशोलेशन में रह रहे 10 व्यक्तियों की हेल्पलाईन पर काॅल प्राप्त हुई जिनमें 03 काॅल वृद्धजन, अन्य की 07 काॅल तथा आपदा कन्ट्रोलरूम में 03 काॅल प्राप्त हुई। इसी प्रकार आज कोविड कन्ट्रोलरूम से होमआयशोलेशन में रह रहे 143 व्यक्तियों को सम्पर्क कर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी प्राप्त की गई। जनपद में अबतक विभिन्न विकासखण्डों में 12.50 लाख आईवरमैक्टिन दवा का वितरण किया गया तथा 351 ग्राम पंचायतों में 50-50 मेडिकल किट वितरित की जा चुकी हैं, शेष 149 ग्राम पंचायतों में आगामी 1-2 दिन के भीतर मेडिकल किट उपलब्ध करा दी जाएंगी।  

 उप जिलाधिकारी चकराता/कालसी संगीता कन्नौजिया ने अवगत कराया कि कालसी क्षेत्रान्तर्गत में ग्राम कनबुआ में बिना अनुमति के शादी समारोह आयोजित करने तथा विवाह में निर्धारित संख्या से अधिक व्यक्तियों के शामिल होने की शिकायत प्राप्त हुई, जिसकी जांच करने पाया गया कि शादी/समारोह की अनुमति प्रशासन से प्राप्त नही की गई थी, शादी समारोह में मौके पर शासन द्वारा निर्धारित संख्या  से अधिक लोग मौजूद थे। 

कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत शासन की गाईडलाइन का उल्लंघन होने के फलस्वरूप इसे गम्भीरता से लेते हुए सम्बन्धित लड़का/लड़की पक्ष पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।

Post a Comment

Powered by Blogger.