Halloween party ideas 2015


देहरादून :

सिविल जज (सी0डि)/सचिव विधिक सेवा प्राधिकरण, देहरादून नेहा कुशवाहा ने अवगत कराया माननीय राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, नैनीताल के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देहरादून द्वारा कोविड महामारी में लोगों को इस बीमारी से बचने के लिए आवश्यक कदम उठाने और घर पर ही रह कर आवश्यक सुरक्षित उपाय तथा अन्य जानकारी हेतु फोन, आॅनलाईन वीडियो कान्फे्रंस, वाट्सएप्प आदि इलैक्ट्रानिक माध्यम से जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा जनता की काउन्सिलिंग किए जाने की सेवा शुरू की गई हैं जिसके लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, देहरादून द्वारा अधिवक्तागण एवं पराविधिक कार्यकर्तागण नियुक्त किए गए हैं। 

जिनमें अधिवक्तागण देहरादून के लिए श्रीमती लता राणा 9897444742, आशुतोष गुलाटी 9897870644, रोहित श्रीवास्तव 8958275811, यदुबीर सिंह 9897209418, दीपक थपलियाल 8077012577, शमीम खान 9837645797,  विकास नगर के लिए मनोज कुमार शर्मा  9412058600, अजय कुमार बडोनी 9412009051,श्रीमती बिन्दु 8868965329, सरोज 9456539732, ऋषिकेश के लिए भूपेन्द्र कुमार शर्मा 9837780593, देवेन्द्र 7017375741, अजय सिंह वर्मा 9997461313, डोईवाला के लिए मनोज कुमार 8077382380 नियुक्त किए गए हैं। इसी प्रकार पराविधिक कार्यकताओं में देहरादून के लिए सुश्री सुनीता सिंह 8979093382, जितेन्द्र 7253000005, श्रीमती शमीना सिद्धकी 9411564547, श्री जहांगीर आलम 8954080190, डोईवाला के लिए सुभाष तिवाड़ी 7248153856, चकराता के लिए सुजत अली 8126622151 एवं  ऋषिकेश के लिए श्रीमती विभा नामदेव 7060140960एवं श्रीमती मीनाक्षी कपरूवाण को  नियुक्त किए गए हैं। 


देहरादून ;


जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से जनपद में अवस्थित विभिन्न लैब के संचालकों से वर्चुअल बैठक की। जिलाधिकारी ने वीडियाकान्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी लैब सचालकों को आईसीएमआर गाईडलाईन के अनुसार सैम्पल प्राप्त करते हुए तत्काल उनकी एन्ट्री पोर्टल पर की जाए, एन्ट्री लम्बित ना रखी जाए।  

उन्होनंे कहा किसी भी  सैम्पल की 48 घंटे के भीतर अनिवार्य रूप से पोर्टल पर अद्यतन करने के निर्देश दिए। उन्होंने लैब संचालकों को प्रोटोकाॅल के अुनसार सैम्पल लिए जाएं तथा सैम्पल प्राप्त करने के दौरान सम्बन्धित पूर्ण पता एवं स्पष्ट मोबाईल नम्बर लिया जाए, जिससे किसी व्यक्ति की रिर्पोट पाॅजिटिव प्राप्त होने पर उससे सम्पर्क किया जाए।

 उन्होंने लैब संचालकों से कहा जब किसी व्यक्ति का सैम्पल प्राप्त करें तो उसे यह भी सलाह दी जाए की सैम्पल रिपोर्ट प्राप्त होने तक पृथक रहें  ईधर-उधर ना घूमें। जिलाधिकारी ने लैब संचालकों को लैब की क्षमता के अनुसार सैम्पल प्राप्त करनें तथा एन्टीजन, आरटीपीसीआर टैस्ट, घर से सैम्पल कलैक्शन की दर लैब में चस्पा की जाए। उन्होंने सभी लैब संचालकों को आईसीएमआर की गाईड के अनुसार कार्य करने तथा कोई भी रिपोर्ट बिना आईएसआरएस आईडी के ना दी जाए। उन्होंने सभी लैब संचालकों से कहा कि जो उनके द्वारा मोबाईल नम्बर दिए गए हैं यदि उनमें कोई नम्बर बदल गया है तो संशोधित नम्बरों की सूची जिला प्रशासन को प्रेषित करें, जिससे जनमानस को लैब से सम्पर्क करने में किसी प्रकार की असुविधा ना हो।

जिलाधिकारी ने वीडियोकान्फ्रेंसिंग के माध्यम से सम्बन्धित अधिकारियों निर्देश दिए कि  जिन होमआयशोलेशन व्यक्तियों को काॅल की जा रही है उस पर शत्प्रतिशत् रिस्पाण्ड होना चाहिए, जिन व्यक्तियों को काॅल की जा रही अथवा जिन व्यक्तियों की काॅल प्राप्त हो रही है उनको रैण्डमली चैक भी कर लिया जाए, उनकी समस्या का शत्प्रतिशत निस्तारण किया जाए।  उन्होंने कहा कि जिन व्यक्तियों का आक्सीजन लेवल 90 से कम आ रहा है उनको उपचार हेतु हाॅस्पिटल में आक्सीजन कसंनटेटर वाले बैड पर भर्ती करवाने की कार्यवाही की जाए। उन्होंने काॅल सेन्टर से काॅलिंग बढाने के निर्देश तथा कालिंग के दौरान जिन व्यक्तियों की स्वास्थ्य समस्या है को रिपोर्ट प्रेषित करने का इंतजार ना कर तत्काल उपचार के लिए सम्बन्धित अधिकारी को सूचित कर दिया जाए। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को सैम्पलिंग बढानें तथा सैम्पल के दौरान जिन व्यक्यिों के सैम्पल प्राप्त कर रहे है को दी गई होमआयशोलेशन किट वितरण का विवरण भी प्रतिदिन प्राप्त कर लिया जाए। उन्होंने समस्त उप जिलाधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्रों में संक्रमित व्यक्ति चिन्हित होने पर तत्काल कन्टेंनमेंट जोन बनाए जाने के निर्देश दिए। 

जिलाधिकारी ने समस्त उप जिलाधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्रों में बनाए गए कन्टेंनमेंट जोन में प्रभावी सर्विलांस कार्य करवाने, गाईडलाईन्स का काड़ाई से अनुपालन करते हुए मास्क एवं सामाजिक दूरी का पालन करवाने, जनमानस को कोविड-19 संक्रमण एवं उसके बचाव के प्रति पोस्टर, बैनर, पम्पलेट, संदेश के माध्यम से जागरूक करने के साथ ही जिन व्यक्तियों में कोविड-19 सकं्रमण के लक्षण प्रतीत हो रहें हैं उनकी तत्काल सैम्पलिंग करवाने तथा सैम्पलिंग के दौरान होमआयशोलेशन किट भी वितरित की जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए की क्षेत्र में प्रत्येक व्यक्ति जिनकी रिपोर्ट पाॅजिटिव प्राप्त हुई है उनको होमआयशोलेशन किट मिल जाए। जिलाधिकारी ने आमजनमानस से अनुरोध किया आवश्यक वस्तुओं को लेने के लिए बाजारों में आने पर मास्क एवं सामाजिक दूरी का पालन करें, अनावश्यक ना घूमें तथा यदि किसी व्यक्ति में लक्षण प्रतीत हो रहें है तो चिकित्सकों से परामर्श लें। 

जिलाधिकारी डाॅं0 आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया है कि जनपद में कोरोना वायरस संक्रमण के  दृष्टिगत प्राप्त हुई रिपोर्ट में 2026 व्यक्तियों की रिपोर्ट पाॅजिटिव प्राप्त होने के फलस्वरूप जनपद में आतिथि तक कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 68928 हो गयी है, जिनमें कुल 47858 व्यक्ति उपचार के उपरान्त स्वस्थ हो गये हैं। वर्तमान में जनपद में 18948 व्यक्ति उपचाररत हैं।आज जांच हेतु कुल 9737 सैम्पल भेजे गए। जनपद में आज 49178 व्यक्तियों का कम्यूनिटी सर्विलांस किया गया जिसमें 236 व्यक्तियों में कोविड-19 संक्रमण सम्बन्धी लक्षण पाए जाने पर स्वास्थ्य विभाग को सैम्पलिंग लेने के निर्देश दिए गए। जनपद में अस्पतालों को 1901 एवं  आम नागरिकों 284 सिलेण्डर वितरित किए। जनपद में जिला प्रशासन द्वारा 747 एवं एसडीआरएफ द्वारा 164 होम आयशोलेशन किट का वितरण किया गया। आपदा कन्ट्रोलरूम में होमआयशोलेशन में रह रहे 36 व्यक्तियों की आयशोलेशन किट हेतु काॅल प्राप्त हुई, जिनको होमआयशोलेशन किट के वितरण की कार्यवाही एसडीआरएफ के माध्यम से करवाई जा रही है। आपदा कन्ट्रोलरूम में होमआयशोलेशन में रह रहे 31 व्यक्तियों की हेल्पलाईन पर काॅल प्राप्त हुई जिनमें वृद्धजनों की 07, अन्य की 24 काॅल तथा आपदा कन्ट्रोलरूम में 33 काॅल प्राप्त हुई।  



देहरादून ;

 जिलाधिकारी द्वारा ओवर रेटिंग, जमाखोरी, कालाबाजारी पर प्रभावी रोक लगाने हेतु दिए गए निर्देशों के अनुपालन मे मृत्युंजय क्रिटिकल हाॅस्पिटल में उप जिलाधिकारी सदर गोपाल राम बिनवाल, नगर मजिस्टेªट कुश्म चैहान एवं पुलिस की टीम द्वारा छापेमारी की गई, जबकि यह अस्पताल कोविड उपचार हेतु घोषित नहीं है फिर भी यहां पर 4 कोविड संक्रमित लोगों का ईलाज होता पाया गया जिस पर टीम द्वारा मुख्य चिकित्साधिकारी को आवश्यक कार्यवाही संस्तुति की गई है। ऋषिकेश क्षेत्रान्तर्गत श्यामपुर एवं रायवाला क्षेत्र में उप जिलाधिकारी वरूण चैधरी द्वारा बांट एवं माप टीम द्वारा फल-सब्जी, खाद्य सामग्री दुकानों पर ओवररेटिंग निरीक्षण किया गया। 


Post a comment

Powered by Blogger.