Halloween party ideas 2015

 खाकी ने रचा गीत कैलाश खेर ने दी आवाज, आज माननीय मुख्यमंत्री महोदय ने किया विमोचन



                 कहते है मन मे चाह हो और माँ गंगा का आशीर्वाद हो तो क्या नही हो सकता , यूँ खाकी तो अपनी व्यस्तता, तनाव भरी जीवन शैली और आमूमन साहित्य लेखनी से दूरी के लिए जानी जाती है  किन्तु  इस बार इस भ्रम  को तोड़ खाकी ने गंगा के चरणों मे अपनी लेखनी अपने अल्फाजो से कुम्भ गाथा अर्पित की है।

     ऐसा ही कुछ देखने को मिला इस बार जब  श्री संजय गुंज्याल  पुलिस महानिरीक्षक कुम्भ ओर श्री प्रवीण आलोक इंस्पेक्टर उत्तराखंड पुलिस ने अपना हुनर दिखाते हुए  महाकुम्भ पर रच डाले दो  गीत, जिसे आवाज दी है, विख्यात  गीतकार कैलाश खेर ने। जिन्होंने उसे कम्पोज भी किया और भक्ति मय संगीत स्वरूप भी प्रदान किया। वही दूसरा  गीत जो बाजार में आने से पहले ही चर्चा का विषय बन  गया इसी गाने को पॉप धुन में उतार दिया है। संगीत की दुनिया के सितारे विशाल भारद्वाज ने ओर आवाज दी है।

  उत्तराखंड के उभरते हुए सिंगर . चिन्मय ब्यास, कमलेश पन्त, राहुल सिंह बिष्ट  ओर अभिषेक केशला..ने, इसी  क्रम में आज महाकुम्भ हेतु दो गानों का विमोचन भी मुख्यमंत्री  द्वारा किया गया,  

यह दोनों ही गीत कुम्भ मेला पुलिस हरिद्वार  के फेसबुक पेज ओर यूट्यूब , ओर इंस्टाग्राम पर अपलोड किया जाएगा ।

       


                          इंस्पेक्टर प्रवीण आलोक 
 

         साथ ही पत्रकारों से वार्ता करते  हुए इंस्पेक्टर प्रवीण आलोक ने   कहा कि कि हम सभी का इस माटी ओर माँ गंगा  के प्रति बहुत सम्मान , श्रद्धा ओर प्यार है जब मेरी नियुक्ति महाकुम्भ में हुई तो अल्फाजो ने कहा कि ये धर्म कुम्भ है ।किंतु खाकी के लिए कोविड चुनोती के मध्य यह कर्म कुम्भ भी है, ये  अध्यात्म का सार लिए हम सबके लिए यह धर्म ध्वजा ओर मानवता का महाकुम्भ  भी है।

     यह दोनों ही कुम्भ गीत कुम्भ क्षेत्र में बजेंगे, जहां इससे जवानों का मनोबल बढेगा वहीं श्रद्धालुओं को आध्यत्मिक रस  की प्राप्ति होगी

Post a Comment

Powered by Blogger.