Halloween party ideas 2015

 

हरिद्वार: 



मेला अधिकारी दीपक रावत ने शनिवार को आनन्दम् हास्पिटल, प्रशान्त विहार, जगजीतपुर में भर्ती अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहन्त नरेन्द्र गिरि जी महाराज से मुलाकात की। उन्होंने श्रीमहन्त नरेन्द्र गिरि जी महाराज से उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली तथा शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की।

मेलाधिकारी ने अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष से जब स्वास्थ्य के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि अब वे काफी अच्छा महसूस कर रहे हैं। 

इस अवसर पर कुशलक्षेम पूछने वालों में महामण्डलेश्वर स्वामी कैलाशानन्द ब्रह्मचारी जी, स्वामी बालकानन्द जी महाराज, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कुम्भ मेला जन्मेजय खण्डूड़ी उपस्थित थे।

हरिद्वार: 

मेलाधिकारी दीपक रावत एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, कुम्भमेला जनमेजय खण्डूरी ने शनिवार को दक्ष पार्किंग, बैरागी, गौरीशंकर, चण्डीघाट सेक्टर का औचक स्थलीय निरीक्षण किया। 

मेलाधिकारी ने सर्वप्रथम दक्ष पार्किंग का जायजा लिया तथा लक्सर व दिल्ली से आने वाली गाड़ियों की पार्किंग के सम्बन्ध में विचार-विमर्श किया तथा वहां की व्यवस्थाओं के बारे में अधिकारियों से जानकारी ली। इसके पश्चात वे बैरागी कैम्प का निरीक्षण करते हुये गौरीशंकर दीप पहुंचे। सेक्टर मजिस्ट्रेट गौरीशंकर ने मेलाधिकारी को लाइट व्यवस्था के बारे में बताया। वहां से वे बिजनौर, मुरादाबाद, नैनीताल जाने वाली रोड श्यामपुल तिराहा क्रासिंग पहुंचे। वहां पर मेलाधिकारी और अन्य अधिकारियों ने बसों को पार्किंग कराने के बाद श्रद्धालुओं को शटल बस की सेवा देने के सम्बन्ध में विचार-विमर्श किया। 

दीपक रावत ने चण्डीपुल के नीचे अस्थाई पुलों एवं घाटों का निरीक्षण किया तथा भीड़ बढ़ने पर अस्थाई घाटों पर श्रद्धालुओं को स्नान कराने तथा गंगा में पानी के लेबल के सम्बन्ध में चर्चा की।  

मेलाधिकारी ने चण्डीपुल चैकी के पास नीचे की ओर बन रहे रैम्प का भी निरीक्षण किया, जहां से श्रद्धालु चण्डीघाट तथा बन रहे अस्थाई पुल होते हुये गौरीशंकर पार्किंग जा सकेंगे। 

दीपक रावत ने निरीक्षण के दौरान चण्डीपुल के नीचे निवास करने वाले मिर्ची बाबा, जो सिर्फ दूध, चाय तथा मिर्च का ही सेवन करते हैं एवं गौरीशंकर सेक्टर में 40 साल से एक हाथ ऊपर किये हुये महन्त भोलागिरी जी महाराज तथा 13 साल से खड़े रहने वाले बाबा, महांकुम्भ के आकर्षणों के भी दर्शन किये। 

औचक निरीक्षण के दौरान मनीष सिंह, सेक्टर मजिस्ट्रेट सहित संबंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे। 

 

श्रीमदजगद्गुरू श्रीश्री गरीबदासाचार्य जी महाराज की भव्य शोभायात्रा शनिवार को श्री गरीबदासी धर्मशाला मायापुर से प्रारंभ हुई। जिसके मुख्य अतिथि मेलाधिकारी दीपक रावत और आईजी कुंभ संजय गुंज्याल ने गीता मनीषी महामंडलेश्वर स्वामी ज्ञानानंद जी महाराज की उपस्थिति में श्रीमदजगद्गुरू श्री श्री गरीबदासाचार्य जी महाराज की पालकी की विधिविधान से पूजा अर्चना कर शोभायात्रा का शुभारंभ किया।  बैंडबाजे की धुन और आतिशबाजी करते हुए शोभायात्रा शिवमूर्ति चौक होते हुए रवाना हुई। श्री दयासागर जी महाराज, श्री स्वामी भरतदास जी महाराज, श्री महंत ऋषिश्वरानंद जी महाराज, स्वामी श्री रविदेव शास्त्री आदि पूजन में शामिल हुए।         इस दौरान विशिष्ट अतिथि अपर मेलाधिकारी हरबीर सिंह, सेक्टर मजिस्ट्रेट गौरव पांडेय सहित बड़ी संख्या में संतजन और उनके अनुयायी भक्त मौजूद थे।

 भल्ला कालेज स्टेडियम में बने कुंभ मेला पुलिस लाइन में शनिवार को विभिन्न अखाड़े के संत महात्माओं की मौजूदगी में आगामी शाही स्नान को लेकर विचार विमर्श किया गया।  

मेलाधिकारी दीपक रावत, आईजी कुंभ मेला संजय गुंज्याल ने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री श्रीमहंत हरिगिरि जी महाराज, श्री महंत सत्यगिरि जी, श्री पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी के सचिव और मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष श्री महंत रविन्द्र पुरी जी महाराज, श्री पंचायती अखाड़ा महानिर्वाण कनखल के श्री महंत रवींद्र पुरी जी महाराज, अखिल भारतीय श्री पंच निर्वाणी अणि अखाड़े के श्री महंत धर्मदास, श्री अग्नि अखाड़े के अध्यक्ष सम्पूर्णानंद ब्रह्चारी, श्री महंत रामदास सहित अन्य अखाड़े के पूज्य संतों का माल्यार्पण कर शाल और अंगवस्त्र ओढ़ाकर स्वागत व अभिनंदन किया।

इसके बाद आईजी कुंभ संजय गुंज्याल ने अखाड़े के संतों को आगामी शाही स्नान के रूट, समय और व्यवस्थाओं की विस्तार से जानकारी दी। अधिकारियों ने अखाड़े के संतजनों से इस पर सुझाव और आशीर्वाद मांगा। 

मेलाधिकारी दीपक रावत ने कहा कि आपसी सौहार्द और समन्वय से शाही स्नान और महाकुंभ का दिव्य और भव्य आयोजन हो सकेगा। इसके बाद मेलाधिकारी दीपक रावत, आईजी कुम्भ संजय गुंज्याल सभी अखाड़ों के प्रतिनिधियों के साथ शंकराचार्य चैक से बस में सवार होकर रोड़ी बेलवाला बाड़े में पहुंचे। यहां साधु-संतों के रथ आदि वाहनों के पार्क होने के स्थान को चिन्हित किया गया। इसके साथ ही पेशवाई मार्ग होते हुए सभी हरकी पैड़ी ब्रह्मकुंड पहुंचे। इसके बाद सभी ने वापसी मार्ग का भी निरीक्षण किया। 

इस दौरान जिलाधिकारी सी रविशंकर, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार सेंथिल अबूद ई कृष्ण राज एस, एसएसपी कुंभ जन्मेजय खंडूरी, अपर मेलाधिकारी डाॅ0 ललित नारायण मिश्र, अपर पुलिस अधीक्षक रेलवे मनोज कत्याल, पुलिस उपाधीक्षक प्रकाश देवली सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद थे।





Post a Comment

Powered by Blogger.