Halloween party ideas 2015

 रुद्रप्रयाग :



       प्रदेश के वन एवं पर्यावरण मंत्री डाॅ. हरक सिंह रावत भाजपा युवा प्रकोष्ठ द्वारा आयोजित सैनिक सम्मान समारोह में पहुंचे। इस दौरान उन्होंने आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे भूतपूर्व सैनिकों को शाॅल व माला पहनाकर सम्मानित किया। कहा कि ऐसे अवसर पर वे खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।
        भूतपूर्व सैनिकों के सम्मान में नगर पालिका अलकनंदा वैडिंग प्वाइंट में आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे वन मंत्री डाॅ. रावत ने सैनिकों के सम्मान में कहा कि आज उत्तराखंड के सैनिकों की बदौलत देश में राज्य की नई पहचान बनी है। पहले राज्य को यहां स्थित चारों धामों की वजह से जाना जाता था लेकिन आज देश में सैनिकों व सैन्य क्षेत्र में उच्च पदों पर आसीन अधिकारियों के नाम से राज्य को नई पहचान मिली है। 

इसलिए देश के प्रधानमंत्री ने राज्य को सैनिक धाम का नाम दिया है। यह सभी प्रदेशवासियों के लिए गर्व का विषय है। उन्होंने केंद्र व राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की विस्तृत चर्चा करते हुए कहा वन रैंक, वन पेंशन, धारा-370 व देश के लिए शहादत देने वाले सैनिकों का राष्ट्रीय सम्मान उनकी सरकार के कार्यकाल में ही लागू हुए। वनों में लगने वाली वनाग्नि को लेकर कहा कि इसके लिए सभी को सामूहिक रूप से प्रयास करने होंगे। उन्होंने उपस्थित पूर्व सैनिकों व भाजपा कार्यकर्ताओं से इस क्षेत्र में भी लोगों को जागरूक करने का आह्वान किया। 

रुद्रप्रयाग विधायक भरत सिंह चैधरी ने राज्य के भूतपूर्व सैनिकों के पराक्रम पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हमारे सैनिकों की गौरवशाली परंपरा रही है। आज पूर्व सैनिकों ने सम्मान समारोह में उपस्थित होकर उनका व पार्टी का मान बढ़ाया है। जिला पंचायत अध्यक्ष अमरदेई शाह ने कहा कि वे भी सैनिक परिवार से हैं और सैनिकों के बूते ही हमारा देश सुरक्षित है। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए सेवानिवृत्त डी.आई.जी. कैशव डोभाल ने सेना के दौरान अपने अनुभव साझा किए। 

भाजपा युवा प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष विकास डिमरी ने उपस्थित अतिथियों का धन्यवाद देते हुए कहा कि राज्य के सभी जनपदों में युवा प्रकोष्ठ के द्वारा सैनिकों के सम्मान को लेकर ये कार्यक्रम हो रहे हैं। इस अवसर पर भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष व चमोली प्रभारी विजय सिंह कप्रवाण, ओमप्रकाश बहुगुणा, महिला मोर्चा अध्यक्ष कुंवरी बत्र्वाल, सुरेंद्र रावत, सुरेंद्र जोशी, भूतपूर्व सैनिक शिशपाल सिंह बिष्ट, हरि सिंह राणा, सत्यपाल नेगी सहित अन्य भूतपूर्व सैनिक मौजूद थे। मंच संचालन गौरव चैधरी द्वारा किया गया।



Post a Comment

Powered by Blogger.