Halloween party ideas 2015

 

*आईआईटी जेम के माध्यम से देश के प्रतिष्ठित प्रौद्योगिकी संस्थान में इन छात्र-छात्राओं को मिलेगा प्रवेश

हरिद्वार :

 



एस.एम.जे.एन.पी.जी. काॅलेज के दो छात्र- छात्राओं ने आईआईटी जेम्-2021, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान-एम.एससी. में प्रवेश के लिए संयुक्त परीक्षा में सफलता प्राप्त की है। उक्त जानकारी देते हुए काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने बताया कि उक्त परीक्षा हेतु हमारे काॅलेज की छात्रा कु. दीक्षा वर्मा ने गणित विषय में तथा छात्र आकाश सैनी ने रसायन विज्ञान विषय में इस महत्वपूर्ण परीक्षा को उत्तीर्ण किया है। आईआईटी जेम् के माध्यम से देश के प्रतिष्ठित प्रौद्योगिकी संस्थान में इन छात्र- छात्राओं को  प्रवेश का अवसर मिलेगा। 

काॅलेज प्रबन्ध समिति के सचिव श्रीमहन्त रविन्द्र पुरी जी महाराज ने अपने बधाई संदेश में कहा कि समस्त अभ्यर्थियों ने अपने माता-पिता, परिवार व जनपद का नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि काॅलेज के प्रतिभावान चयनित छात्र- छात्रा

 उत्तराखण्ड के रत्न हैं। एस.एम.जे.एन. काॅलेज के दो छात्र-छात्राओं का चयन एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। श्रीमहन्त ने कहा कि कोई भी परीक्षा अपनी प्रतिभा और दृढ़ संकल्प दिखाने के लिए सही अवसर है। उन्होंने बताया कि देहरादून स्थित एस.जी.आर.आर. महाविद्यालय का एक छात्र ने भी इस परीक्षा में सफलता प्राप्त की है।

इस अवसर पर काॅलेज प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष श्रीमहन्त लखन गिरि जी महाराज ने समस्त अभ्यर्थियों को अपनी शुभकामनायें प्रेषित की। प्रतिभावान छात्रों को अपने पक्ष में परिणाम लाने हेतु   कभी भाग्य का सहारा लेने की आवश्कता नहीं होती, वे अपने भाग्य के स्वयं निर्माता होते हैं। 

काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने बताया कि आई.आई.टी. में प्रत्येक वर्ष एम.एससी. कक्षाओं में प्रवेश हेतु जेम परीक्षा आयोजित करवायी जाती है। इस वर्ष  फरवरी में आईआईएमसी, बंगलरू ने प्रवेश हेतु उक्त परीक्षा आयोजित की थी। डाॅ. बत्रा ने कहा कि जब हमारे काॅलेज परिवार का कोई भी छात्र-छात्रा किसी प्रतियोगी परीक्षा में सफलता प्राप्त करता है तो काॅलेज परिवार के लिए बड़े गर्व एवं हर्ष की अनुभूति भी होती है। उन्होंने दो छात्र-छात्राओं को बधाई दी।अधिष्ठाता छात्र कल्याण डाॅ. संजय कुमार माहेश्वरी ने सभी अभ्यर्थियों को अपनी शुभकामनायें देते हुए कहा कि हम सभी जानते हैं कि दुनिया में प्रत्येक व्यक्ति अपने जीवन में सफल होना चाहता है, लेकिन सफल वही होता है जो अपनी जिन्दगी में आने वाली किसी भी कठिनाई से न डरे और उसका जमकर सामना करे, तभी व्यक्ति अपने जीवन में सफलता प्राप्त कर सकता है। सफलता प्राप्त छात्र-छात्राओं ने बताया कि एम.एससी. करने के उपरान्त वे अपने सम्बन्धित विषयों में शोध कार्य में संलग्न होंगे।  इस अवसर पर डाॅ. श्रीमती सरस्वती पाठक, डाॅ. मन मोहन गुप्ता, डाॅ. जे.सी. आर्य, विनय थपलियाल, डाॅ. सुषमा नयाल, डाॅ. पूर्णिमा सुन्दरियाल, डाॅ. प्रज्ञा जोशी, डाॅ. पदमावती तनेजा, कु. नेहा सिद्दकी, डाॅ. पुनीता शर्मा, विनीत सक्सेना, डाॅ. अमिता श्रीवास्तव, डाॅ. शिव कुमार चौहान, डाॅ. मनोज कुमार सोही, वैभव बत्रा, डाॅ. सुगन्धा वर्मा, आस्था आनन्द, डाॅ. निविन्धया शर्मा, विवेक मित्तल, डाॅ. लता शर्मा, रिचा मिनोचा, श्रीमती रिंकल गोयल, मोहन चन्द्र पाण्डेय, वेद प्रकाश चौहान आदि ने अपनी शुभकामनायें प्रेषित की।

Post a comment

Powered by Blogger.