Halloween party ideas 2015



अधिकारियों को भुगतान की डोंगल व्यस्था को दुरूस्थ करने के दिये निर्देश

देहरादून, :



सहकारिता, उच्च शिक्षा, प्रोटोकाॅल एवं दुग्ध विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ. धन सिंह रावत आज विधानसभा स्थित कार्यालय कक्ष में ग्राम्य विकास विभाग की बैठक ली। बैठक में श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र सहित जनपद पौड़ी के मनरेगा कार्य एवं पंचायत भवनों सहित कई महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चर्चा की। इस दौरान सहकारिता मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि विधानसभा क्षेत्र के विभन्न ग्राम पंचायतों के पंचायत भवनों के जीर्णोद्धार एवं नवनिर्माण के कार्य शीघ्र शुरू किये जाय। 

बैठक में डाॅ. रावत ने कहा कि दूरस्त ग्राम पंचायतों में भुगतान की डोंगल व्यवस्था के चलते समय पर राज्य वित्त की धनराशि पंचायतों को प्राप्त नहीं हो पा रही है। जिस कारण विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं। साथ ही उन्होंने पंचायतों में ग्राम विकास अधिकारी एवं ग्राम पंचायत विकास अधिकारियों की भारी कमी होना भी विकास कार्यों में धीमी प्रगति का कारण बताया। जिस कारण वर्तमान में एक-एक कर्मचारी के पास एक दर्जन से अधिक पंचायतों की जिम्मेदारी है। लिहाजा ग्राम प्रधानों को संबंधित ग्राम पंचायत अधिकारी से मिलने के लिए कई दिन इंतजार करना पड़ता है। जिस पर अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास मनीषा पंवार ने बताया कि ग्राम विकास अधिकारियों के रिक्त पदों का अधियाचन राज्य अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को भेजे जा चुके हैं। भर्ती प्रक्रिया पूरी होते ही उक्त कार्मिकों की तैनाती कर दी जायेगी। इसके अलावा विकासखण्डों में अवर अभियंता एवं सहायक कार्मिकों के रिक्त पदों को मानकों के अनुसार भरे जाने की अनुमति शासन द्वारा जारी कर दी गई है। दूसरी ओर प्रभारी सचिव एवं निदेशक हरि चन्द सेमवाल ने बताया कि विभागीय में चल रहे ग्राम पंचायत विकास अधिकारियों के रिक्त पदों पर भर्ती के लिए भी अधियाचन आयोग को भेजा गया है।  

बैठक में पंचायत राज निदेशक हरि चन्द सेमवाल ने कहा कि दूरस्थ ग्राम पंचायतों में 14वें राज्य वित्त के तहत स्वीकृत धनराशि को डोंगल व्यवस्था के माध्यम से शीघ्र भुगतान किये जाने के लिए समस्त जिला पंचायतराज अधिकारियों को निर्देशित किया जा चुका है। साथ ही उन्होंने बताया कि पंचायत भवनों के नव निर्माण एवं जीर्णेंधार के लिए स्वीकृत धनराशि शीघ्र जारी कर दी जायेगी इस संबंध में जिला पंचायतराज अधिकारियों को निर्देशित कर दिया गया है।

बैठक में अपर मुख्य सचिव मनीषा पंवार के अलावा प्रभारी सचिव एवं निदेशक पंचायतीराज हरि चन्द सेमवाल, अपर सचिव ग्राम्य विकास वंदना सिंह, जिला पंचायतराज अधिकारी पौड़ी एम.एम.खान सहित कई विभागीय अधिकारी मौजूद रहे। 

Post a comment

Powered by Blogger.