Halloween party ideas 2015


ऋषिकेश:




जीवनी माई मार्ग पर एक बार फिर से प्रशासन द्वारा छोटी सब्जी मंडी को लगाए जाने की इजाजत देने के बाद शहर में कोरोना विस्फोट होने की आशंका गहराने लगी है। इस गंभीर खतरे को लेकर  क्षेत्र के दुकानदारों द्वारा महापौर से गुहार लगाई गई है।


कोरोना का खतरा अभी भी बरकरार है। लेकिन इसके बावजूद कोरोना को लेकर प्रशासन का रूख कुछ ढीला पड़ता हुआ नजर आ गए।रिहायशी क्षेत्र में सब्जी मंडी लगाने के प्रशासनिक आदेश दिए गये हैं। हालांकि इसमें नियमों की बात जरूर कही गई है लेकिन यह निमय कायदे कानून सिर्फ कागजी फाईलों तक ही  सिमट कर नही रह जायेंगे इसको लेकर आशंकाए प्रबल बनी हुई है। इन सबके बीच मंगलवार की दोपहर जीवनी माई रोड़ एसोसिएशन के सदस्यों ने रिहायशी क्षेत्र में छोटी सब्जी मंडी  पुनः शुरू  कराए जाने के विरोध में महापौर को एक ज्ञापन सौंपा। एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश वर्मा के नेतृत्व में महापौर से मिले प्रतिनिधिमंडल ने महापौर को अवगत कराया कि जीवनी माई मार्ग स्थित सब्जी मंडी बेहद संकरी गली में है।

 सब्जी मंडी में दिनभर होचपोच की स्थिति बने रहने के कारण एक बार से कोरोना का खतरा मंडराने लगा है।क्षेत्र में रहने वाले लोग भी सब्जी मंडी की पूर्ववर्ती व्यवस्था से वैश्विक महामारी को लेकर सहमे हुए हैं।जिसकों देखते हुए यहां से सब्जी मंडी की शिफ्टिंग होना बेहद आवश्यक है। 

एसोसिएशन के सदस्यों द्वारा जिलाधिकारी को भी इस बाबत शिकायती पत्र भेजा गया है ।जिसकी प्रतिलिपि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री, शहरी विकास मंत्री, गढ़वाल आयुक्त , मुख्य सचिव को भी प्रेषित की गई है ।महापौर से मिलने वालों में राकेश वर्मा, पंकज शर्मा ,मनोज राजपूत, अशोक अवस्थी, सोहन लाल अग्रवाल ,अनिल अग्रवाल, हरीश बांगा, कांता प्रसाद भट्ट आदि प्रमुख रूप से शामिल थे।

Post a comment

Powered by Blogger.