Halloween party ideas 2015

 नकरौंदा मे शहीद द्वार का उद्घाटन, उक्रांद ने किया पूर्व सैनिकों की एकजुटता का आह्वान 

आज नकरौंदा बालावाला में देव भूमि स्वराज फाउंडेशन एक्स आर्मी एसोसिएशन और पैरामेडिकल एसोसिएशन के द्वारा शहीद मानवेंद्र सिंह स्मृति द्वार का उद्घाटन किया गया। स्मृति द्वार का उद्घाटन शहीद के पिता नरेंद्र सिंह रावत के द्वारा किया गया। 

समाजसेवी वीरेंद्र थापा ने पूर्व सैनिकों के लिए रिक्तियों में सरकार द्वारा उचित आरक्षण दिए जाने की मांग की।  इसके अलावा पूर्व सैनिकों के लिए कोटा और नियुक्ति को प्राथमिकता से करने की मांग की।

समारोह में उत्तराखंड के शहीद जवानों के लिए जिले में   शहीद दिवस मनाने और अन्य कार्यक्रम करने के लिए भूमि और भवन की भी सरकार से मांग की गयी।

उत्तराखंड क्रांति दल के नेता शिवप्रसाद सेमवाल ने पूर्व सैनिकों को एकजुट होने की अपील करते हुए उनके बच्चों को नौकरियों  मे पंद्रह प्रतिशत आरक्षण की मांग की। साथ ही  उनको उच्च शिक्षा मे 15%आरक्षण और निशुल्क हास्टल व्यवस्था देने की आवश्यकता बताई। तथा सभी राजनीतिक दलों को सैनिकों उनके कल्याण के लिए योजनाओं को अपनी घोषणा पत्र में शामिल कराने के लिए दबाव बनाए जाने की बात कही।

 देवभूमि स्वराज फाउंडेशन के इंदर सिंह रमोला ने कहा कि शहीद जवानों और एक्स आर्मी के वेलफेयर के लिए सरकार बेहद उदासीन है। उन्होंने पूर्व सैनिकों को सरकारी सेवाओं में 15% आरक्षण दिए जाने की मांग की।

कार्यक्रम में पूर्व कैबिनेट मंत्री हीरा सिंह बिष्ट ,नकरौंदा के पूर्व  ग्राम प्रधान बुद्ध देव सेमवाल, पूर्व सैनिक इंदर सिंह रमोला आदि वक्ताओं ने शहीदों के सम्मान के लिए एकजुट रहने का आह्वान किया, इसके साथ ही सेना के आश्रितों और पूर्व सैनिकों को विभिन्न सेवाओं में आरक्षण से लेकर अन्य अधिकारों के संबंध में आवाज उठाने के लिए एकजुट होने का आह्वान किया।

उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय संगठन मंत्री संजय बहुगुणा, शांति प्रसाद भट्ट, जनकल्याण समिति के अध्यक्ष विजय मैठाणी, देवभूमि महासभा के संस्थापक प्रमोद कपरुवान शास्त्री,  कैप्टन भगवती प्रसाद भट्ट, सूबेदार मेजर नरेंद्र बिष्ट,सूबेदार महादेव नौटियाल सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।


नकरौंदा में आयोजित इस समारोह में डेढ़ सौ से अधिक एक्स आर्मी अफसर और जवान तथा उनके आश्रित मौजूद थे।


शहीद द्वार का निर्माण जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी गौरव सिंह के प्रयासों से किया गया।


कार्यक्रम का संचालन समाजसेवी वीरेंद्र सिंह थापा ने किया।

Post a comment

Powered by Blogger.