Halloween party ideas 2015

नैनीताल:







 कोविड 19 संक्रमण के दौरान गुजरे तीन महिनों तक ग्रामीण इलाकों मे जिला प्रशासन की ओर से आयोजित होने वाले बहुउददेशीय शिविर बाधित रहे। स्थितियां सामान्य होने की ओर अग्रसर होने पर अनलाॅक हुआ जिसके मददेनजर जिलाधिकारी  श्री सविन बंसल ने विकास खण्ड धारी के दुर्गम ग्राम अघरिया मे विशेष शिविर आयोजित कर ग्रामीण इलाके के वाशिंदों का दुख-दर्द जाना और उनके क्षेत्र की अनेकों समस्याओ का मौके पर ही निस्तारण किया। जिलाधिकारी श्री बंसल पहले डीएम है जो अघरिया गंाव पहुचे। 

उनको अपने बीच पाकर गांव के बुर्जुग, बच्चे, महिलायें खुशी से झूम उठे और सभी ने गर्मजोशी के साथ युवा जिलाधिकारी श्री बंसल का भव्य स्वागत किया। सोमवार की भोर से ही जिलाधिकारी गांव के जाने के लिए तत्पर दिखे और उन्होने प्रशासनिक अधिकारियो ंके साथ लगभग 5 किमी. की पैदल चढाई पार कर अघरियां गांव मे अपनी मौजूदगी व्यक्त कराई।

जनपद के दूरस्थ  ग्रामीण क्षेत्रों में निवासरत लोगो को उनके क्षेत्र में ही सरकारी सुविधाओं का लाभ पहुंचाने तथा उन्हें यह विश्वास बनाए रखने की वह मुख्यधारा का ही भाग है इसके लिए जिलाधिकारी श्री सविन बंसल द्वारा एक मुहिम चलाकर जनपद के दूरस्थ क्षेत्रों में लगातार कैंप आयोजित कर जनता को लाभान्वित किया जा रहा था।

 जिसकी तारीफ मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत शासन तथा उच्च अधिकारियों द्वारा समय-समय पर की जाती रही है मुख्यमंत्री द्वारा जिलाधिकारी की इस पहल से प्रभावित होकर अन्य जनपदों के जिलाधिकारियों से भी यह अपेक्षा की है कि वह भी दूरस्थ क्षेत्रों में जाकर इस प्रकार के शिविरों का आयोजन करें क्योंकि इस प्रकार के कैंपों के आयोजन से जनता अपने ही क्षेत्र में विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित होती हैे जिससे शासन प्रशासन एवं सरकार के प्रति जनता का विश्वास बढ़ता है। इसके साथ ही उच्च अधिकारियों के फील्ड में पहुंचने से अधिकारियों एवं कर्मचारियों मे ऊर्जा का संचार होने के साथ ही कार्यप्रणाली में निखार आता है।

लॉकडाउन के कारण बाधित अपनी इस मुहिम को जिलाधिकारी श्री  सविन बंसल द्वारा पुनः शुरू कर दिया गया है इसी मुहिम को आगे बढ़ाते हुए आज सोमवार को जिलाधिकारी श्री बंसल अपने निर्धारित कार्यक्रम अनुसार 4 किमी के उबड़ -खाबड विभिन्न रास्तों से पैदल चलकर राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय अघरिया पहुंचे। 

आजादी के 73 वर्षों के बावजूद किसी जिला अधिकारी के प्रथम बार दूरस्थ क्षेत्र अघरिया पहुंचने पर क्षेत्रीय जनता द्वारा उनका फूल मालाओं से भव्य रूप से स्वागत किया क्षेत्र के बुजुर्गों द्वारा जिला अधिकारी को क्षेत्र में पधारने पर स्नेहपूर्ण एंव प्रेम से सम्मानित किया।

शिविर में जनता को सम्बोधित करते हुये जिला अधिकारी श्री बंसल ने कहा कि धारी, पदमपुरी में बहुत जल्दी पैथोलॉजी लैब शुरू कराई जाएगी। श्री बंसल ने कहा कि महिलाओं  को आजीविका के संसाधनों से जुड़ने हेतु स्वयं सहायता बना समूह बनाकर सक्रिय होना चाहिए उन्होंने कहा कि स्वयं सहायता समूह को सरकार द्वारा समय से वित्तीय सहायता दी जायेगी।  श्री बंसल ने कहा कि महिला स्वयं सहायता समूहों  को उत्पादों की ब्रिकी के लिए बाजार उपलब्ध कराने के प्रयास किए जा रहे हैं महिला स्वयं सहायता समूह के उत्पादोें के विपणन हेतु 35 लाख की लागत के 12 आधुनिकतम आउटलेट विभिन्न पर्यटन स्थलों पर बना कर दिए जा रहे हैं ताकि महिलाये अपने उत्पादों को आने वाले पर्यटको तक पहुचा सकेंगी। 

  श्री बंसल ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में परिवर्तन लाने हेतु विद्यालयों का कायाकल्प किये जाने के साथ ही विद्यालयों में वाइट बोर्ड नई किताबें लाइब्रेरी आदि को सही किया जा रहा है श्री बंसल ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि लक्ष्य निर्धारित करते हुए उसे प्राप्त करने के लिए कठिन परिश्रम कड़ी मेहनत एवं अनुशासन की आवश्यकता है उन्होंने कहा कि आगे बढ़ना है तो जरूर पढ़ना होगा श्री बंसल ने कहा कि विद्यार्थियों के पढ़ने में यदि कोई बाधा एवं समस्या है तो वह प्रशासन को बताएं प्रशासन द्वारा समस्याओं के निदान हेतु हर संभव सहायता उपलब्ध की जाएगी उन्होने कहा कि सभी व्यक्ति मुख्यधारा के भाग हैं और हमें प्रयास करना चाहिए कि उपलब्ध संसाधनों का समय से बेहतर उपयोग किया जाए। जिलाधिकारी श्री बंसल ने निर्देश दिए कि जिन समस्याओ का मौके पर निस्तारण होना संभव नहीं है वे संबंधित विभागों को स्थानांतरित की जा रही है ऐसी समस्याओं पर संबंधित अधिकारी 15 दिन के भीतर निस्तारण  करना सुनिश्चित करें

   विधायक राम सिंह कैेड़ा ने कहा कि जिलाधिकारी द्वारा आयोजित होने वाले बहुउददेशी शिविरों से जनता लाभान्वित हो रही है। उन्होने जिलाधिकारी की कार्यप्रणाली एवं कार्यशैली की प्रशंसा करते हुए कहा कि भविष्य में भी क्षेत्रीय जनता को इसी प्रकार के कैंपों का लाभ मिलता रहेगा।  श्री कैडा ने जिलाधिकारी से कहा कि लम्बे अर्से से मकान बनाकर काबिज जमीनों के मालिकों को प्रशासन द्वारा नोटिस ना जारी किए जाएं और इस संबंध में शासन से भी पत्राचार किया जाए। श्री राम सिंह कैडा ने प्राथमिक विद्यालय भवन का निर्माण शीघ्र कराने की मांग जिलाधिकारी से की जिस पर जिलाधिकारी श्री बंसल ने मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता को निर्देश दिए कि किसी भी विभागीय एजेंसी से विद्यालय निर्माण हेतु शीघ्र बनवा कर प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें।

 शिविर में ब्लॉक प्रमुख आशा रानी ने अपने संबोधन में कहा कि कर्मठ, जुझारू, ईमानदार होने के साथ ही दूरस्थ क्षेत्र की जनता के पीड़ा को समझने वाले जिलाधिकारी श्री बंसल को जनपद में भेजने पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का आभार व्यक्त किया।  उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी द्वारा समय-समय आयोजित होने वाले कैम्पों का लाभ दूरस्थ क्षेत्र की जनता को ऐसे ही  मिलता रहेगा। ब्लॉक प्रमुख सहित क्षेत्रीय जनता ने धानाचुली से  अघरिया  एवं  ग्वालकोट से अगरिया मोटर मार्ग निर्माण की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी श्री बंसल ने अधिशासी अभियंता लोनिवि एबी कांडपाल को निर्देश दिए कि दोनों संपर्क मार्ग निर्माण में अड़चनें कम हो उस पर प्राथमिकता से कार्य करना सुनिश्चित करें,  इसके साथ ही धानाचुली से अघरिया तक मोटर मार्ग निर्माण हेतु प्रथम चरण  का आगणन बनाएं इसके साथ ही धानाचुली के पास लगभग200 मीटर संपर्क मार्ग निर्माण हेतु शीघ्र आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश भी दिये।

        शिविर मुख्य रूप से सड़कों के निर्माण पेयजल, आर्थिक सहायता पीएम आवास योजना में आवास चाहने हेतु आदि से संबंधित मुख्य समस्यायें रखी गई। सड़कों के निर्माण से संबंधित जानकारी देते हुए अधिशासी अभियंता लोनिवि एबी कांडपाल ने बताया कि बिरसिंगया में  6 किमी मोटर मार्ग निर्माण हेतु सैद्धांतिक स्वीकृति मिल चुकी है और मोटर मार्ग को जिला योजना के स्थान से राज्य योजना में ट्रांसफर के लिए प्रस्ताव शासन को भेजा गया है,  उन्होंने बताया कि सिमल्या से दौलतपुर, बडोंन से सिमल्या-साननी-मल्ला ओखलकांडा से खनस्यू  मोटर मार्ग निर्माण हेतु वन भूमि क्षतिपूर्ति अर्थात सीए लैंड मिलते ही आगे की कार्यवाही की जाएगी, कश्यालेख-कोल-धारी मोटर मार्ग में क्षतिग्रस्त दीवारों के निर्माण हेतु एसडीआरएफ में आगणन भेजा गया है,  परबड़ा-कोल-धारी 6 किमी स्वीकृत मोटर निर्माण हेतु एनपीवी की धनराशि जमा कराई जा रही है। इसी प्रकार हरिनगर-अकसोड़ा मोटर मार्ग निर्माण हेतु प्रस्ताव भेजा गया है।

शिविर में उमेश चंद्र ने पलड़ा-देवनगर मोटर मार्ग से मलवा निस्तारण ना करने की शिकायत की जिस पर जिलाधिकारी श्री बंसल ने उप जिलाधिकारी अनुराग आर्य को अधिशासी अभियंता पीएमजीएसवाई के साथ संयुक्त निरीक्षण कर तत्काल मलवा निस्तारण करने के निर्देश देते हुए कहा कि संबंधित ठेकेदार यदि इस प्रकरण में दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ नियमानुसार पेनाल्टी लगाई जाए।  क्षेत्र पंचायत सदस्य सोबन सिंह ने मुक्तेश्वर में सार्वजनिक शौचालय निर्माण की मांग की जिस पर जिलाधिकारी श्री बंसल ने बताया कि पर्यटन विभाग द्वारा मुक्तेश्वर में आधुनिकतम सार्वजनिक शौचालय का निर्माण कराया जा रहा है। 

       ग्राम प्रधान रेखा आर्या ने अघरिया की पेयजल क्षमता बढ़ाने की मांग की जिस पर जिलाधिकारी श्री बंसल ने अधिशासी अभियंता जल संस्थान को जल जीवन मिशन योजना में शीघ्र सर्वे करते हुए कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए। मोहन चंद्र ने पीएम आवास योजना में आवास चाहने, नीरज पंत ने पढ़ाई हेतु आर्थिक सहायता,  रेखा  ने घर के समीप लगा ट्रांसफर हटवाने एवं लकड़ी के पोल हटवाने, मुन्नी देवी ने मकान व आर्थिक सहायता चाहने, चंद्र प्रकाश ने पैदल मार्ग निर्माण आदि से सम्बंधित मांग रखी।

शिविर में आय प्रमाण पत्र 4,विकलांग 4, विधवा पेशन  2, दिव्यागं 1, परित्याक्ता 01, मृत्यु 1,परिवार नकल 5, राशन कार्ड  12, टीकाकरण 4, बीपीएल कार्ड 20, आघार कार्ड 28, विद्युत त्रुटि सुधार एवं संयोजन 8, जल संयोजन 2, बीपी-शुगर जांच 80, अन्य चिकित्सक परामर्श जांच, दवा वितरण 250, पशुओं हेतु दवा वितरण 30, नन्दागौरा फार्म 12, प्रधान मंत्री मातृ वन्दन योजना के 15 फार्म भरवाये गये। शिविर में बाल विकास विभाग द्वारा बच्चों को स्वच्छता  किट, उत्कृष्ट कार्य करने वाली आंगनवाड़ी कार्यकत्री बबली देवी, सुनीता आर्या, शोभा देवी, रेखा देवी को जिलाधिकारी  द्वारा सम्मानित किया गया, शिक्षा विभाग द्वारा बच्चों को स्टेशनरी एंव शैक्षिक किट का वितरण किया गया। स्वास्थ्य विभाग द्वारा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत गर्भवती एंव धात्री महिलाओं को पोषण किट का वितरण किया गया। 

शिविर में मुख्य विकास अधिकारी नरेंद्र सिंह भंडारी के अलावा क्षेत्र पंचायत सदस्य मीना देवी, जिला पंचायत सदस्य संजय पांड,े पूर्व प्रधान सुरेश चंद्र विकास, अधिकारी रमा गोस्वामी, मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता, उप जिलाधिकारी अनुराग आर्य, जिला पंचायत राज अधिकारी अतुल प्रताप सिंह, जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी शैलेश कुमार, जिला पूर्ति अधिकारी मनोज बर्मन, जिला समाज कल्याण अधिकारी अमन अनिरुद्ध, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 टीके टम्टा, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट आदि मौजूद थे


Post a comment

Powered by Blogger.