Halloween party ideas 2015

ऋषिकेश:



न्याय पंचायत क्षेत्र श्यामपुर के वन सीमा से सटे इलाकों में गुलदार की धमक से ग्रामीण दहशत में है। ग्रामीणों ने स्थानीय प्रसाशन एवं वन विभाग से गुलदार व जंगली जानवरों को आबादी में आने से रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाने की मांग की है।

श्यामपुर न्याय पंचायत के वन क्षेत्र से सटे इलाकों में वन्यजीवों की आमद लगातार बढ़ने से लोग दहशत में है।एक ओर जहाँ  हाथियों की आमद में इजाफा हुआ है।  दूसरी ओर ग्राम सभा खदरी खड़क माफ  में वन विभाग व ग्रामीणों के  वन्यजीवों की आमद रोकने के लाख प्रयास के बाबजूद आये  दिन जंगली जानवर आबादी में घुस रहे है। बीते रविवार सांय के समय जंगल से चार पत्ती चुंग कर आ रहे पालतू पशुओं के पीछे एक गुलदार ने दौड़ लगा दी। खेतों में पशुओं का एक झुण्ड भागता दिखाई देने से किसान अचरज में पड़ गए। जिज्ञासावश मामले की पड़ताल करने पर कुछ आगे जाते ही उनके पैर ठिठक गए। ग्रामीणों को सामने से गुलदार जाता दिखाई दिया। गौरतलब है कि आजकल धान की फसल कटने के बाद खेतों में पराली के ढेर पड़े हुए हैं।जिसके कारण किसानों के पालतू पशु रात तक खेतों में ही घूमते रहते हैं। ऐसे में गुलदार पालतू पशुओं  का पीछा करते हुए खेतों की ओर बढ़ने लगा है। ग्रामीणों ने शोर मचाकर किसी तरह गुलदार को वहाँ  से खदेड़ा। रात ढलने से पहले ही  भोजन व शिकार की तलाश में आबादी क्षेत्र में गुलदार की धमक से ग्रामीण दहशत में है। उन्होंने स्थानीय प्रसासन के साथ ही वन विभाग से जंगली जानवरों को आबादी में आने से रोकने को प्रभावी कदम उठाने की मांग की है। उधर वन बिट अधिकारी राजेश बहुगुणा का कहना था कि खदरी में गुलदार के घुस आने की सूचना ग्रामीणों ने दी है। गुलदार के आबादी में आने से रोकने को आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।

Post a comment

Powered by Blogger.