Halloween party ideas 2015

  •  हर महीने पहाड़ों पर जाकर सैकड़ों लोगों का मुफ्त इलाज करते हैं डॉ एसडी जोशी
  • मेडिकल कैंप में 167 मरीजों ने स्वास्थ्य जांच, 75 मरीजों ने कराई ईसीजी व पैथोलोजी जांच


घण्डियाल, पौड़ी गढ़वाल:

 



 आज एक ओर जहाँ बुद्धिजीवी और खुद को सामाजिक कार्यकर्ता कहने वाले लोग बैठकर सिर्फ सरकार की कमियों पर बहस करते हैं, तो वहीं कुछ ऐसे लोग भी हैं जो आगे बढ़कर बदलाव के लिए ठोस कदम उठाने में यकीन रखते हैं। आज बात ऐसे ही एक व्यक्ति की जिन्होंने पहाड़ में स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिये चलो गांव की ओर अभियान शुरू किया हुआ है। चमोली जनपद के मूल निवासी और वर्तमान में देहरादून में रह रहे डॉ. एसडी जोशी हर महीने पहाड़ के गांवों में जाकर मुफ्त मेडिकल कैंप लगाते हैं।

कल्जीखाल विकासखण्ड के घण्डियाल में लगाया निःशुल्क स्वास्थ्य कैंप


जाने माने फिजिशियन डॉ एसडी जोशी की प्रदेश के अंतिम व्यक्ति तक निःशुल्क स्वास्थ्य सेवा पहुंचाने की चलो गांव की ओर मुहिम जारी है। डाॅ एसडी जोशी द्वारा आज पौडी के कल्जीखाल विकास खण्ड के घण्डियाल में लगाये गए निःशुल्क स्वास्थ्य परामर्श शिविर में 160 से अधिक मरीजों की जांच की गई। शिविर में 75 से अधिक लोगों की निःशुल्क ईसीजी व पैथोलोजी जांच भी हुई।

डॉ एसडी जोशी ने की 167 मरीजों के स्वास्थ्य की जांच 


विचार एक नई सोच न्यूज पोर्टल, पलायन एक चिंतन समूह, डीआर फार्मा व चैखम्बा मेडिकॉज ग्रुप के संयुक्त तत्वावधान में घण्डियाल के साधन सहकारी भवन में आयोजित निशुल्क स्वास्थ्य सलाह शिविर में आज मरीजों का सैलाब उमड़ पड़ा। इस मौके पर डॉ एसडी जोशी द्वारा 167 मरीजों की स्वास्थ्य जांच की गई, साथ ही 76 मरीजों की ईसीजी व पैथोलॉजी जांच भी निशुल्क की गई। इससे पूर्व क्षेत्र में आयोजित होने वाले स्वास्थ्य जांच शिविरों में सहयोग करने हेतु साधन सहकारी समिति घण्डियाल के अध्यक्ष व ग्रामीण पत्रकार जगमोहन डाँगी को विचार एक नई सोच परिवार की ओर से डॉ एसडी जोशी द्वारा सम्मान पत्र भेंट कर सम्मानित भी किया गया।

मेरा प्रयास हर जरूरतमंद को मिले ईलाज- डाॅ जोशी


कैम्प के सफल आयोजन के पश्चात डॉ जोशी ने कहा कि विचार एक नई सोच, पलायन एक चिंतन, डी आर फार्मा व चैखम्बा मेडिकॉज की सराहना करते हुए कहा ऐसे आयोजन में सहयोग से यह सभी संस्थाएं पहाड़ की बेहतरी में खामोशी से अपना योगदान दे रही हैं। डाॅ जोशी ने कहा कि निशुल्क स्वास्थ्य कैंप के लिये उनकी प्राथमिकता पर्वतीय क्षेत्रों के ग्रामीण इलाके हैं। राज्य के जिस भी पर्वतीय जनपद से मुझे स्यंमसेवी संस्थाओं के माध्यम से निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का बुलावा आता है में जाने की हर संभव कोशिश करता हूं। मेरा प्रयास है हर व्यक्ति को ईलाज मिलना चाहिए। सरकार अपनी तरफ से स्वास्थ्य सेवाओं के सुधार के लिये प्रयासरत है लेकिन एक डाॅक्टर होने के नाते हमारा भी फर्ज है कि हम भी अपनी तरफ से प्रयास करें।  


मरीजों के लिये देवदूत हैं डाॅ एसडी जोशी - जगमोहन डांगी


स्वास्थ्य जांच शिविरों में सहयोग करने हेतु साधन सहकारी समिति घण्डियाल के अध्यक्ष व ग्रामीण पत्रकार जगमोहन डाँगी को विचार एक नई सोच परिवार की ओर से डॉ एसडी जोशी द्वारा सम्मान पत्र भेंट कर सम्मानित भी किया गया। समाजसेवी और ग्रामीण पत्रकार जगमोहन डांगी ने इस स्वास्थ्य शिविर के आयोजन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। निशुल्क स्वास्थ्य कैंप के सफल आयोजन पर समाजसेवी और पत्रकार जगमोहन डांगी ने कहा कि डाॅ एसडी जोशी किसी देवदूत से कम नहीं हैं। उत्तराखंड में वह एकमात्र डाॅक्टर हैं जो निस्वार्थ भाव से पर्वतीय क्षेत्रों दुर्गम गांव-गांव जाकर मरीजों का निशुल्क ईलाज कर रहे हैं। इसके साथ ही तमाम बीमारियों को लेकर आम जनता को जागरूक कर रहे हैं। जगमोहन डांगी ने विचार एक नई सोच संस्था के संचालक राकेश बिजल्वाण की पहल की सरहना करते हुए कहा कि बहुत कम लोग ऐसे होते हैं जो निस्वार्थ भाव से समाजसेवा में लगे रहते हैं। निशुल्क दवाईयों के साथ ही कोरोना जागरूकता को लेकर मास्क, सेनेटाइजर वितरण की संस्था की पहल काबिले तारीफ है।

इस मौके पर विचार एक नई सोच के प्रबंध संपादक राकेश बिजल्वाण, सलाहकार सम्पादक व पलायन एक चिंतन के सचिव अजय रावत अजेय, दीपक जुगरान, नरेश भारद्वाज, सुशील कुमार, कंन्चन आदि द्वारा डॉ एसडी जोशी व जगमोहन डाँगी का सम्मान किया गया।


 

Post a comment

Powered by Blogger.