Halloween party ideas 2015

 जनपद की 41गरीब व अनाथ बालिकाओं को शिक्षा सुधार कार्यक्रम के तहत शिक्षा के उन्नयन हेतु स्कूली सामग्री दी जा रही है.

 जिसमे से प्रथम चरण में आज कोविड 19 के मानकों का पालन करते हुए अगस्त्यमुनि की 17 गरीब व अनाथ बालिकाओं को स्कूली सामग्री दी गई। 



महिला सशक्तिकरण बाल विकास विभाग रुद्रप्रयाग के महिला शक्ति केंद्र द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजनान्तर्गत शिक्षा सुधार कार्यक्रम के तहत मुख्य विकास अधिकारी मनविंदर कौर  की अध्यक्षता मे अगस्त्यमुनि ब्लाक की 17 गरीब और अनाथ बालिकाओ को स्कूली सामग्री वितरित की गई( स्कूल बैग, कापियां, स्कूल जूते, मोजे)। शिक्षण सामग्री देते हुय मुख्यविकास अधिकारी मनविंदर कौर ने कहा कि स्कूली सामग्री देने का उद्देश्य शिक्षा के प्रति प्रोत्साहित करना है। बेहतर शिक्षा के माध्यम से आप अपना जीवन की वर्तमान परिस्थिति को परिवर्तित करने के साथ ही समाज के अन्य वर्गों की राह भी बदल सकते हो। इस अवसर पर सीडीओ ने बाल विकास विभाग को समय समय पर इन बालिकाओं से फॉलो अप के लिये निर्देशित भी किया। 

जिला कार्यक्रम अधिकारी हिमांशु बड़ोला ने कहा कि यह नवीन पहल प्रशासन व विभाग के सौजन्य से यह नेक कार्यक्रम शुरू किया है। उम्मीद है इस नवीन पहल से बालिकाओं की शिक्षा में सुधार आयेगा। इस अवसर पर  महिला शक्ति केंद्र से दीपिका काण्डपाल, डॉली पंवार, प्रीती और बालिकाओ के अभिभावक  उपस्थित थे।

Post a comment

Powered by Blogger.