Halloween party ideas 2015

 


अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, ऋषिकेश  में हिंदी सप्ताह का आयोजन किया गया, जिसके तहत सप्ताहव्यापी प्रतियोगी कार्यक्रम आयोजित किए गए, समापन समारोह में प्रतिभागियों को संस्थान की ओर से सम्मानित किया गया।     


 अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में सोमवार को हिंदी दिवस के मौके पर निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत जी की देखरेख में वर्चुअल कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर निदेशक प्रो.रवि कांत जी ने राजभाषा हिन्दी के महत्व पर प्रकाश डाला, उन्होंने संस्थान में कार्यरत संकायगणों, अधिकारियों व कर्मचारियों से अपना अधिक से अधिक कार्य हिन्दी में करने का आह्वान किया।                                           

   इस अवसर पर हिंदी निबंध प्रतियोगिता हुई, जिसमें संस्थान के विभिन्न विभागों से जुड़े अधिकारियों,संकायगण,कर्मचारियों, विद्यार्थियों व  रेजिडेंट्स चिकित्सकों ने वर्चुअल माध्यम से बढ़चढ़कर हिस्सा लिया।  संस्थान में हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में सप्ताहभर कार्यक्रम हुए, जिनमें  भाषण प्रतियोगिता, श्रुतलेखन प्रतियोगिता, नारा लेखन प्रतियोगिता तथा स्वरचित काव्य पाठ प्रतियोगिताओं का आयोजन शामिल है।                  इसके अलावा राजभाषा विभाग, भारत सरकार के दिशा निर्देश पर देश की विभिन्न जानीमानी विभूतियों, महापुरुषों की हिन्दी सूक्तियों के ध्येय वाक्य/बैनर बनाए गए, जिन्हें एम्स परिसर में प्रमुख स्थानों पर प्रदर्शित किया गया। साथ ही राजभाषा हिंदी के प्रचार प्रसार के उद्देश्य से संस्थान के सभी डिजी बोर्ड पर हिन्दी दिवस पर शुभकामना संदेश प्रसारित किया गया। इस अवसर पर राजभाषा प्रकोष्ठ की ओर से वृहद शब्दकोष एम्स संस्थान के पुस्तकालयाध्यक्ष संदीप सिंह को भेंट किया गया, जिसे केंद्रीय पुस्तकालय में रखा जाएगा। जिससे हिन्दी भाषा में रुचि रखने वाले मातृभाषा प्रेमी हिन्दी के शब्दों के बारे में अधिकाधिक जानकारी प्राप्त कर सकें और सभी अधिकारी,कर्मचारी,विद्यार्थी इस शब्दकोष का उपयोग कर सकें। कार्यक्रम के समापन अवसर पर निदेशक पद्मश्री प्रो.रवि कांत जी द्वारा विजेताओं को वर्चुअल माध्यम के जरिए पुरस्कार वितरित किए गए।                                                                                                                                                                                                                               इस अवसर पर एम्स संस्थान में वर्षभर हिन्दी में उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारियों को भी सम्मानित किया गया। बताया गया कि संस्थान में कैशलेस सिस्टम लागू होने के चलते नकद पुरस्कार राशि विजेताओं के खाते में जमा भेजी जाएगी।   

    इस अवसर पर संकायाध्यक्ष (शैक्षणिक ) प्रोफेसर मनोज गुप्ता जी, संकायाध्यक्ष (अस्पताल प्रशासन) प्रो. यू.बी. मिश्रा जी, उपनिदेशक (प्रशासन) अंशुमन गुप्ता जी, राजभाषा अधिकारी राजीव चौधरी जी आदि उपस्थित थे।

Post a comment

Powered by Blogger.