Halloween party ideas 2015

 उत्तरकाशी:

 


नगरपालिका परिषद बाड़ाहाट उत्तरकाशी की कार्यशैली पर एक और सवाल जिसमें काशी विश्वनाथ मंदिर के 100मी0 पास मृतक गायों को शहर के बीच रामलीला मैदान में गाढ़ा जा रहा है जो हिंदू संस्कृति और आस्था पर बहुत बड़ा कुठाराघात है जिसका भगवा फोर्स, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, व्यापार मंडल, गायत्री परिवार, सभी गौभक्तों नें खुलकर विरोध कर जिलाधिकारी उत्तरकाशी को सामूहिक ज्ञापन सौंपा ।

भगवा फोर्स जिला अध्यक्ष जसपाल सिंह बिष्ट नें प्रशासन की लापरवाही पर सवाल खड़े करते हुए तत्काल मृतक गायों के लिए नगरपालिका परिषद उत्तरकाशी को जगह उपलब्ध करानें की बात की क्योंकि नगरपालिका लंबे समय से शहर के कुड़े और कूड़े के स्थायी निस्तारण के लिए प्रशासन को जिम्मेदार ठहरा रहा है जनता को एक तरफ कूड़ा और दूसरी ओर शहर के बीच दफनायी जा रही गायों से होनें वाली बीमारियों सड़न का शिकार बनाया जा रहा है ।

 हिंदू धर्म, आस्था जैसे गंभीर विषय गौ-माता की मृत्यु और मृतक गायों का रामलीला मैदान में दफन करना चिंता और दुर्भाग्यपूर्ण पूर्ण है जिससे आनें वाले समय में शहर में महामारी का खतरा बननें का डर है इसगम्भीर विषय पर कार्यवाही न होनें पर सभी गौ-भक्त उग्र हो सकते हैं ज्ञापन देनें वालों में कमल डंक, कुलदीप सेमवाल, दीपक भट, सुधीर बलोनी, अनुराग भट्ट,आदि मौजूद थे ।


उत्तरकाशी-ताँबाखानी में हो रहे कूड़े डंपिंग को लेकर भगवा फोर्स के कार्यकर्ताओं नें ज्ञापन सौंपा

भगवा फोर्स के जिला अध्यक्ष जसपाल सिंह बिष्ट नें राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण के 100मी0 और 500मी0 मानकों की अनदेखी कर प्रशासन, नगरपालिका व चुनें जनप्रतिनिधियों पर आरोप लगाया कि खुलेआम शहर का कूड़ा बीमारियों को न्योता दे रहा है और कूड़े का रिसता बरसाती पानी गंगा नदी को प्रदूषित कर रहा है लेकिन प्रशासन,नगरपालिका व जनप्रतिनिधि कुम्भकर्णी नींद में सोए हैं ।

उन्होंने जिलाधिकारी उत्तरकाशी से दो सफ्ताह का समय मांगा उसके बाद संगठन अग्रिम कार्यवाही हेतु बाध्य होगा ज्ञापन देनें वालों में सुरेंद्र रमोला, कुलदीप सेमवाल, अनुराग भट्ट, अतर सिंह राणा, व्यापार मंडल उत्तरकाशी के प्रतिनिधियों का सहयोग दीपक भट्ट आदि मौजूद थे

उत्तरकाशी-ताँबाखानी में हो रहे कूड़े डंपिंग को लेकर भगवा फोर्स के कार्यकर्ताओं नें ज्ञापन सौंपा ।

भगवा फोर्स के जिला अध्यक्ष जसपाल सिंह बिष्ट नें राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण के 100मी0 और 500मी0 मानकों की अनदेखी कर प्रशासन, नगरपालिका व चुनें जनप्रतिनिधियों पर आरोप लगाया कि खुलेआम शहर का कूड़ा बीमारियों को न्योता दे रहा है और कूड़े का रिसता बरसाती पानी गंगा नदी को प्रदूषित कर रहा है लेकिन प्रशासन,नगरपालिका व जनप्रतिनिधि कुम्भकर्णी नींद में सोए हैं ।

उन्होंने जिलाधिकारी उत्तरकाशी से दो सफ्ताह का समय मांगा उसके बाद संगठन अग्रिम कार्यवाही हेतु बाध्य होगा ज्ञापन देनें वालों में सुरेंद्र रमोला, कुलदीप सेमवाल, अनुराग भट्ट, अतर सिंह राणा, व्यापार मंडल उत्तरकाशी के प्रतिनिधियों का सहयोग दीपक भट्ट आदि मौजूद थे

Post a comment

Powered by Blogger.