Halloween party ideas 2015


ऋषिकेश :

उत्तराखण्ड सरकार ने बिजली विभाग के साथ सामंजस्य कर शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में पथ प्रकाश की व्यवस्था की है। जिसके तहत प्रत्येक वार्ड को जोड़ने वाले मार्ग व गलियों में आने जाने वाले लोगों को  अंधेरे का सामना नही करना पड़े।
इसके लिए राज्य सरकार द्वारा ग्राम स्तर पर स्ट्रीट लाईट उपलब्ध कराई गई है। जिन्हें ग्राम प्रधान व निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के सहयोग से उन स्थानों ओर लगाया जा रहा है। स्ट्रीट लाईट को मार्ग के चौराहे व अंधेरे स्थानों पर लगया जा रहा है।
ताकि अंधेरे के चलते कोई अप्रिय घटना असमाजिक तत्वों द्वारा किसी वारदात को अंजाम देना व जंगली जानवरों के हमले से बचा जा सके। इसी तथ्य के आधार पर हरिद्वार देहरादून हाइवे पर स्तिथ छिददरवाला से नवाववाला को जाने वाले जंगल के रास्ते पर ग्राम सभा ने ग्रामीणों की सुविधा के लिए स्ट्रीट लाईट लगाई। जहाँ  अभी चंद रोज पहले किसी अज्ञात वजह से एक नर कंकाल भी बरामद हुआ। वहाँ पर लगी स्ट्रीट लाईट खराब थी।  ग्रामीणों ने स्ट्रीट लाईट को मरम्मत के लिए खम्बे से उतार दिया। मरम्मत होने के बाद जब ग्रामीणों ने बिजली कर्मी से लाईट का कनेक्शन जोड़ने का आग्रह किया ।तो बिजली कर्मी ने कनेक्शन जोड़ने से मना कर दिया। जिससे ग्रामीणों को उस मार्ग पर से अपने गंतव्य तक जाने में  घने जंगल व  अंधेरे के चलते असमाजिक तत्वो व जंगली जानवरों के हमले का भय बन गया है। ग्रामीणों की मांग नही मानने पर ग्रामीण आक्रोशित हो गए। ग्रामीणों का कहना था कि विभागीय कर्मचारी उनकी सुरक्षा से खिलवाड़ कर रहे है। यदि शीघ्र पथ प्रकाश का कनेक्शन नही जोड़ा गया तो वे उग्र आंदोलन के लिए बाध्य हो जायेगे।

Post a comment

Powered by Blogger.