Halloween party ideas 2015




बदरीनाथ :


 बामन द्वादशी के अवसर पर श्री बदरीनाथ धाम में  माता मूर्ति उत्सव  सादगीपूर्वक मनाया गया। प्रात: भगवान बदरीनाथ मंदिर में अभिषेक आरती तथा बालभोग के पश्चात  प्रात:दस  बजे भगवान बदरीनाथ जी की गद्दी एवं भगवान के सखा उद्धवजी ने मातामूर्ति मंदिर  माणा के लिए प्रस्थान किया। 11.30 बजे भगवान बदरीनाथ जी की गद्दी एवं उद्धव जी के साथ श्री बदरीनाथ धाम के रावल ईश्वरी प्रसाद नंबूदरी,  उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी बी.डी. सिंह,धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल, सहित  देवस्थानम बोर्ड के कर्मचारी,तीर्थ पुरोहित, हक हकूकधारी  एवं श्रद्धालुगण मातामूर्ति मंदिर पहुंचे। माता मूर्ति मंदिर के निकट  महिला मंगल दल माणा गांव की महिलाओं तथा युवकों, बुजुर्गों ने भगवान बदरीविशाल को जौ की
पवित्र हरियाली  भेंट की तथा देव डोलियों का स्वागत किया।
माता मूर्ति मंदिर  पहुंच कर उद्धव जी ने भगवान बदरीविशाल की ओर से माता मूर्ति देवी की कुशलक्षेम पूछी। पूजा-अर्चना, यज्ञ-हवन हुआ।
रावल ईश्वरी प्रसाद नंबूदरी, धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल, माता मूर्ति मंदिर के पुजारी सुशील डिमरी ने पूजा-अर्चना करवायी।माता का आशीर्वाद प्राप्त किया। दिन का भोग माता मूर्ति मंदिर में लगाया गया।
3.30 बजे शायंकाल को श्री उद्धवजी एवं भगवान बद्रीविशाल जी की डोली वापस बदरीनाथ मंदिर पहुंच गयी। देवडोलियों के वापस आने तक श्री बदरीनाथ मंदिर के कपाट बंद रहे। डोलियों के वापसी पश्चात बदरीनाथ मंदिर में दर्शन शुरू हुए।
उल्लेखनीय है प्रत्येक वर्ष भाद्रपद शुक्ल द्वादशी अर्थात बामन द्वादशी पर भगवान बदरीविशाल अपनी माता मूर्ति देवी को मिलने माणा स्थित श्री माता मूर्ति मंदिर जाते है। इस दौरान भब्य मेला आयोजित होता है विभिन्न धार्मिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जाते हैं लेकिन इस बार कोरोना महामारी से सीमित तीर्थयात्रा के कारण माता मूर्ति उत्सव सादगीपूर्ण ढ़ग से आयोजित हुआ।  मेला स्थल में श्रद्धालुओं की संख्या सीमित रही। पिछले वर्षों की तरह इस बार  वृहत स्तर पर भंडारे  नहीं लगे। नहीं दुकाने सजायी गयी।
इस दौरान शोसियल डिस्टेसिंग का विशेष ध्यान दिया गया।
  मातामूर्ति उत्सव में भारत- तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) का विशेष सहयोग रहा।  इस अवसर पर  अपर धर्माधिकारी सत्य प्रसाद चमोला, पूर्व प्रधान माणा पीतांबर मोल्फा, थाना प्रभारी सत्येंद्र सिंह नेगी, मातामूर्ति के पुजारी सुशील डिमरी,  डिमरी वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी गिरीश चौहान,सहायक मंदिर अधिकारी राजेन्द्र चौहान, कमेटी सहायक संजय भट्ट,  दफेदार कृपाल सनवाल  आदि मौजूद रहे।प्राप्त जानकारी के अनुसार श्री त्रिजुगीनारायण मंदिर में भी बामन द्वादशी मेला आयोजित हुआ। कार्याधिकारी एन.पी.जमलोकी ने बताया कि इस बार त्रिजुगीनारायण में भी मातामूर्ति मेला सादगीपूर्ण ढ़ग से आयोजित किया गया।


Post a comment

Powered by Blogger.