Halloween party ideas 2015

देहरादून;



जन्माष्टमी का त्योहार देशभर में धूमधाम से मनाया जा रहा है।

। हालांकि इस साल भी कृष्ण जन्माष्टमी की तिथि को लेकर लोगों के बीच उलझन बनी हुई है। देशभर के कुछ हिस्सों में 11 अगस्त को कृष्ण जन्माष्टमी मनाई जा रही है तो वहीं कुछ अन्य हिस्सों में जन्माष्टमी का त्योहार 12 अगस्त को मनाया जा रहा है। दरअसल, माना जाता है कि भगवान श्रीकृष्ण का जन्म भाद्रपद यानी कि भादो माह की कृष्ण पक्ष की अष्टमी को हुआ था, जो इस साल 11 अगस्त को है.
माना जाता है कि भगवान श्रीकृष्ण का जन्म भाद्रपद यानी भादो महीने की कृष्ण पक्ष की अष्टमी को रोहिणी नक्षत्र में हुआ था।

इस वजह से यदि अष्टमी तिथि के हिसाब से देखा जाए तो 11 अगस्त को जनमाष्टमी होनी चाहिए लेकिन रोहिणी नक्षत्र को देखें तो 12 अगस्त को कृष्ण जन्माष्टमी होनी चाहिए। ऐसे में कुछ लोग 11 तो वहीं कुछ अन्य 12 अगस्त को कृष्ण जन्माष्टमी का त्योहा मनाएंगे। मथुरा में 12 अगस्त को जन्माष्टमी मनाई जाएगी.
श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है और इसे हिंदुओं के प्रमुख त्योहारों में से एक माना जाता है। माना जाता है कि सृष्टि के पालनहार श्री हरि विष्णु ने श्रीकृष्ण के रूप में आठवां अवतार लिया था। देश के सभी राज्यों में अलग-अलग तरीके से इस त्योहार को मनाया जाता है।


इस दिन बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक सभी लोग अपनी श्रद्धानुसार दिनभर व्रत रखते हैं और भगवान कृष्ण की महिमा का गुणगान करते हैं। दिनभर घरों और मंदिरों में भगवान कृष्ण के भजन कीर्तन चलते हैं। वहीं मंदिरों में झांकियां भी निकाली जाती हैं।

Post a comment

Powered by Blogger.