Halloween party ideas 2015



अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स संस्थान में विभिन्न गंभीर बीमारियों से ग्रसित भोगपुर, देहरादून निवासी एक 50 वर्षीय कोविड पॉजिटिव मरीज की मंगलवार रात मौत हो गई। इसके अलावा संस्थान में 11लोगों की रिपोर्ट कोविड पॉजिटिव आई है। जिनमें 09 स्थानीय लोग भी शामिल हैं, जिसमें एक एम्स संस्थान की एमबीबीएस की छात्रा व एक महिला नर्सिंग ऑफिसर भी शामिल है। संस्थान की ओर से इस बाबत स्टेट सर्विलांस ऑ​फिसर को सूचित कर दिया गया है।
एम्स के जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल  ने बताया कि भोगपुर,देहरादून निवासी 50 वर्षीय पुरुष को बीती 21 जुलाई को एम्स ऋषिकेश में भर्ती किया गया था, जो कि कोविड निमोनिया, हाईपरटेंशन व किडनी संबंधी बीमारियों से ग्रसित था। संस्थान में भर्ती के बाद उनका कोविड सेंपल लिया गया,जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। जिसे संस्थान के कोविड वार्ड में वेंटीलेटर पर रखा गया था, मंगलवार रात उपचार के दौरान इस मरीज की मृत्यु हो गई। उन्होंने बताया कि इसके अलावा संस्थान में लिए गए कोविड सेंपल में 8 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। पुरानी चुंगी हरिद्वार रोड ऋषिकेश निवासी 30 वर्षीय व्यक्ति जो कि बीते मंगलवार को एम्स की कोविड स्क्रीनिंग ओपीडी में आया था, जिसका सेंपल लिया गया था, उक्त व्यक्ति की रिपोर्ट कोविड पॉजिटिव पाई गई है। गौरतलब है ​कि उक्त व्यक्ति एसिम्टमेटिक जिसमें रोग के लक्षणों का पता नहीं चल पाता है, उसके पिता कोविड संक्रमित हैं व वह उनके प्राइमरी कांटेक्ट में था।                                                                                                                                                      इसके अलावा गंगानगर, ऋषिकेश निवासी एक ही परिवार के तीन लोग कोविड पॉजिटिव पाए गए हैं। तीनों मामले एसिम्टमेटिक हैं। जिनमें 13 वर्षीय किशोरी, किशोरी की 15 वर्षीय बहिन व उसकी 37 वर्षीय मां शामिल है। परिवार के तीनों लोग 28 जुलाई को ओपीडी में आए थे, जहां उनका कोविड सेंपल लिया गया, तीनों सेंपल जांच में पॉजिटिव पाए गए हैं। चिकित्सक ने तीनों पॉजिटिव मरीजों को नजदिकी कोविड अस्पताल में भर्ती होने को कहा है।                                                                                                                                                                                              इसके अलावा एम्स परिसर निवासी 16 वर्षीया एमबीबीएस छात्रा जो कि 28 जुलाई को एम्स ओपीडी में आई, जहां उसका कोविड सेंपल लिया गया जो कि पॉजिटिव पाया गया है। गौरतलब है कि ट्रेवल हिस्ट्री के तहत उक्त छात्रा बीते मंगलवार को हरियाणा से ऋषिकेश लौटी है, जो कि सीमा डेंटल कॉलेज ऋषिकेश में क्वारंटाइन है। साथ ही आवास विकास कॉलोनी निवासी एक 25 वर्षीया महिला जो कि एम्स के पीडियाट्रिक सर्जरी विभाग में बतौर नर्सिंग ऑफिसर तैनात है, जो कि बीते मंगलवार को बुखार, उल्टी व दस्त की शिकायत के साथ एम्स ओपीडी में आई थी, जहां उसका कोविड सेंपल लिया गया जो कि पॉजिटिव पाया गया है। बताया गया कि उक्त नर्सिंग ऑफिसर बीती 24 जुलाई तक ड्यूटी पर थी और उसके बाद से होम क्वारंटाइन में थी, गौरतलब है ​कि उसके साथ के कई हेल्थ केयर वर्कर पूर्व में कोविड पॉजिटिव आए हैं,जिनसे उक्त महिला एनओ का प्राइमरी कांटेक्ट रहा है।                                                                                                                                                                       आमबाग ऋषिकेश निवासी 38 वर्षीया महिला जो कि एम्स में भर्ती एक पुरुष पेशेंट की अटेंडेंट है। महिला बीती 28 जुलाई को एम्स ओपीडी में आई थी। जहां उसका कोविड सेंपल पॉजिटिव पाया गया है। उक्त एसिम्टमेटिक पेशेंट को चिकित्सकों ने नजदीकी कोविड केयर सेंटर में भर्ती होने को कहा है। अंतिम मामला जोगीवाला चौक, देहरादून का है। जोगीवाला निवासी 26 वर्षीय पुरुष जो कि कैलास अस्पताल देहरादून का नर्सिंग स्टाफ है। जिसे पिछले दो दिनों से बुखार व खांसी की शिकायत थी। वह बीते मंगलवार को एम्स ओपीडी में आया था जहां उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। उन्होंने बताया कि सभी कोविड पॉजिटिव मामलों के बाबत स्टेट सर्विलांस ऑफिसर को अवगत करा दिया गया है।

एम्स के जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल  ने बताया कि हरिद्वार रोड पुरानी चुंगी निवासी 54 वर्षीया महिला जो कि बीते मंगलवार को एम्स ओपीडी में आई थी, जहां महिला का कोविड सेंपल लिया गया, जो कि पॉजिटिव पाया गया है। गौरतलब है कि उक्त महिला के पति व पुत्र पूर्व में कोविड संक्रमित हो चुके हैं, महिला उनके प्राइमरी कांटेक्ट में रही है। उसे नजदीकी सीसीसी सेंटर में भर्ती होने को कहा गया है।                  
      हनुमंतपुरम, गंगानगर निवासी 25 वर्षीय युवक बीते सोमवार को बुखार व खांसी की शिकायत के साथ एम्स ओपीडी में आया था, जहां उसका कोविड सेंपल लिया गया। इसके बाद उसे होम आइसोलेशन में भेज दिया गया था, उसकी रिपोर्ट बुधवार को कोविड पॉजिटिव पाई गई है, संस्थान द्वारा उक्त युवक से कांटेक्ट करने पर उसका फोन नंबर बंद आ रहा है,लिहाजा संस्थान की ओर से इस बाबत स्टेट सर्विलांस ऑफिसर को सूचित कर दिया गया है। तीसरा मामला भजनपुर जिला चंपावत का है।

मूलरूप से चंपावत निवासी 67 वर्षीय महिला जो कि कैंसर से ग्रसित है व फॉलोअप के लिए बीते मंगलवार को एम्स ऋषिकेश ओपीडी में आई थी, जहां उसका कोविड सेंपल लिया गया था, महिला वर्तमान में सब्जी मंडी ऋषिकेश क्षेत्र में रह रही है। पेशेंट एसिम्टमेटिक है,जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। उन्होंने बताया कि संबंधित कोविड पॉजिटिव मामलों के बाबत एम्स संस्थान की ओर से स्टेट सर्विलांस ऑफिसर को अवगत कर दिया गया है।

Post a comment

Powered by Blogger.