Halloween party ideas 2015

हरिद्वार:


 भारतीय जागरूकता समिति ने हरिद्वार पुलिस के साथ नशे पर वेबिनार का आयोजन किया गया जिसमे एसएसपी हरिद्वार सेंथिल अबुदई कृष्ण राज एस, श्रीमती कमलेश उपध्याए एस पी सिटी हरिद्वार, आयुष अग्रवाल एस पी क्राइम हरिद्वार एम् हाई कोर्ट के अधिवक्ता ललित मिगलानी रहे जिन्होंने नशे के दुष्प्रभाव पर  सभी महत्वपूर्ण पहलू पर चर्चा की
एसएसपी हरिद्वार सेंथिल अबुदई कृष्ण राज एस ने वेबिनार में कहा हरिद्वार पुलिस नशे के व्यवसाय को हरिद्वार जिले से समाप्त करने के लिए तत्पर तैयार हैI उनके इस प्रयास के लिए जनता का भी सहयोग चाहिये अगर कही भी नशे से सम्बंधित कोई भी गतिविधि होती है तो तुरंत पुलिस को सूचित करे पुलिस उस पर तुरंत कार्यवाही करेगी युवा वर्ग से एसएसपी महोदय ने अपील की वो नशे से दूर रहेI
आयुष अग्रवाल एस पी क्राइम हरिद्वार ने नशे के दुष्प्रभाव के बारे में और नशा मुक्ति केंद्र के बारे में डिटेल में जानकारी दीI अग्रवाल ने बताया की अगर किसी भी व्यक्ति को कोई भी गतिविधि नशे से सम्बंधित दिखती है तो वो 8864882100 पर कॉल कर पुलिस को सूचित कर सकता है संबधित व्यक्ति की पहचान गुप्त रखी जाती हैI
हाई कोर्ट के अधिवक्ता ललित मिगलानी ने बताया की नशे से सम्बंधित प्रदार्थ को खरीदना एम् बेचना दोनों कानून की नजर में अपराध हैI जिसमे सजा 10 साल से उपर की हो सकती हैI नशा व्यक्ति को अंदर से खोखला कर देता है और उसको कमजोर बनता है जिससे व्यक्ति की अंदुरनी ताकत ख़तम हो जाती हैI
श्रीमती कमलेश उपध्याए एस पी सिटी हरिद्वार ने कहा की नशे के व्यवसायी अपना लक्ष्य युवा पीडी को बनाते हैI जिस कारण युवा वर्ग इसमें ज्यादा प्रभावित होता हैI नशे को युवा वर्ग अपना शोक समझते है जबकि वो उनके लिये जहर होता हैI समाज का युवा वर्ग खड़ा हो तो समाज निश्चित रुप से नशा मुक्त हो सकता हैI
विजेंद्र पालीवाल एम् नितिन गौतम ने कहा कि नशापान ने हमारे समाज को काफी प्रभावित किया है। नशा एक ऐसी बीमारी है, जिसकी चपेट में युवा पीढ़ी आकर उन्हें न केवल बीमार बना रहा है, बल्कि उनसे उनके जीवन की खुशियां छीन रहा है। शराब, सिगरेट, तंबाकू एवं ड्रग्स जैसे जहरीले पदार्थों का सेवन कर युवा वर्ग का एक बड़ा हिस्सा अपने भविष्य को अंधारमय बना रहा है। समाजसेवी सह पारा आशु चौधरी एम् विनायक गौड़ ने कहा कि दुनियाभर में नशीली दवाओं और ड्रग्स के खिलाफ जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है। भारत में भी इसके खिलाफ सख्त कानून बने हैं। लेकिन अब भी कई लोग नशे को नहीं छोड़ पाए है। अंजलि महेश्वरी एम् शिवानी गौड़ ने कहा कि सामाजिक सशक्तिकरण और समाज को नशा मुक्त करने के लिए और भी सख्त कदम उठाने की जरूरत है। इस दौरान मौजूद लोगों ने नशापान नहीं करने का संकल्प लिया।

भारतीय जागरूकता समिति के उपाध्यक्ष नितिन गौतन एम् आशु चौधरी ने बताया की समाज में नशा एक विकराल रूप ले रहा हिया जिसमे समाज का हर वर्ग प्रभावित हो रहा हैI इस लिये समाज में नशे के दुष्प्रभाव के बारे में जागरूक करना अति आवश्यक है इस लिए कल इस वेबिनार का आयोजन किया जा रहा हैI
वेबिनर का संचालन शिवानी गौड़ एम् विनायक गौड़ द्वारा किया गया वेबिनार में डॉ सुनील बत्रा, संदीप खन्ना, अंजलि महेश्वरी, संजीव नैयेर, आशु चौधरी, नितिन गौतम, यश लालवानी, सीमा पटेल, अंशु चौधरी, अर्चना शर्मा, विनीता गोनीयल, रीता चमोली विनीत चौहान, शुभम, सिधार्थ परधान, विजेंद्र पालीवाल, अर्पिता सक्सेना, अंशु तोमर, उपासना चौहान, दीपाली शर्मा, अर्चना लोहनी, पुनम भाजपाई, डॉ अनुराधा, हिमांशु चोपड़ा, मोहित भरद्वाज, वर्षा श्रीवास्तव, पी.के श्रीवास्तव, भूपेश चन्द्र पांडे, सपना अग्रवाल, विपुल कुमार गोय, कमल कुरुक्षेत्र, पंडित विशाल शर्मा, मधुसुधन अग्रवाल, नेहा मलिक, करुणा शर्मा, नीरू जैन, मंजुला भगत, योगी रजनीश, रानी, पंकज, ममता, चंद्रकला आदि प्रतिभाग किया और सबका धन्यवाद किया गया I

Post a comment

Powered by Blogger.