Halloween party ideas 2015

                                                                                                                                                                     ऋषिकेश;     

         
                                                                                                                                                                                                                                                                                                             
 एम्स ऋषिकेश की ओर से सामुदायिक केंद्र आईडीपीएल में कप्रेशन ओनली लाइफ सपोर्ट (कॉल्स) प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें विशेषज्ञों ने रेन्बुकाई कराटे सोसाइटी से जुड़े कराटे खिलाड़ियों व आम नागरिकों को काॅर्डियक अरेस्ट से ग्रसित मरीज की जीवनरक्षा के लिए सीपीआर देने की ट्रेनिंग दी।                            आईडीपीएल स्थित सामुदायिक केंद्र में रेन्बुकाई कराटे सोसाइटी के सहयोग से एम्स द्वारा आयोजित कप्रेशन ओनली लाइफ सपोर्ट (कॉल्स) प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें सोसाइटी से जुड़े खिलाड़ियों के अलावा क्षेत्रीय नागरिकों ने भी सीपीआर में दक्षता हासिल की। एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत जी ने बताया कि संस्थान के चिकित्सकों की टीम आम जनता को कॉर्डियक अरेस्ट से ग्रसित लोगों की जीवन की सुरक्षा के लिए विभिन्न स्थानों पर जाकर प्रशिक्षित कर रही है।                                                                                                                        
    निदेशक एम्स पद्मश्री प्रो. रवि कांत जी ने बताया ​कि कप्रेशन ओनली लाइफ सपोर्ट में दक्ष व्यक्ति अपने आसपास के किसी व्यक्ति के कॉर्डियक अरेस्ट से ग्रसित होने की स्थिति में उसे अस्पताल तक पहुंचाने में मददगार साबित हो सकते हैं।                                                                                                                            संस्थान के एडवांस सेंटर ऑफ कंटिन्यूअस प्रोफेशनल डेवलपमेंट की विभागाध्यक्ष प्रो. शालिनी राव की देखदेख में आयोजित कार्यशाला में डा. भारत भूषण भारद्वाज, सीनियर नर्सिंग ऑफिसर हेमंत कुमार, अरुण वर्गिश आदि ने प्रशिक्षणार्थियों को सीपीआर देने के तौर तरीके बताए। इस अवसर पर रेन्बुकाई कराटे सोसाइटी के खिलाड़ियों व अन्य नागरिकों को कॉर्डियक अरेस्ट व हृदयघात में अंतर की जानकारी दी गई। एम्स के विशेषज्ञों की टीम ने शिविर में आपात स्थिति में ग्रसित व्यक्ति के जीवन के संरक्षण के बाबत विस्तृत जानकारी दी। इस अवसर पर सोसाइटी के अध्यक्ष कमल बिष्ट, कोषाध्यक्ष राहुल कुमार, संगीता पांडेय, आवेश नेगी, आकांक्षा, राजेंद्र भंडारी, जतिन माथुर, काजल, रूचिका समेत काफी संख्या में लोग मौजूद थे।

Post a comment

Powered by Blogger.